कद-काठी को लेकर कभी हुई थी ट्रोलिंग का शिकार, आज पूरे देश को 'कमलप्रीत' से उम्मीदें

Edited By Tania pathak,Updated: 02 Aug, 2021 04:43 PM

the whole country has hopes from kamalpreet

टोक्यो ओलंपिक में पूरे देश का सिर गर्व से ऊंचा करने वाली कमलप्रीत कौर आज किसी पहचान की मोहताज नहीं है। कई उतार-चढाव देखने के बाद आज इस मुकाम पर पहुंची कमलप्रीत से पूरे देश को उम्मीदें है।....

चंडीगढ़: टोक्यो ओलंपिक में पूरे देश का सिर गर्व से ऊंचा करने वाली कमलप्रीत कौर आज किसी पहचान की मोहताज नहीं है। कई उतार-चढाव देखने के बाद आज इस मुकाम पर पहुंची कमलप्रीत से पूरे देश को उम्मीदें है। किसी समय अपने कद-काठी और मोटापे की वजह से ट्रॉल्लिंग का शिकार हुई कमलप्रीत आज सभी के लिए एक प्रेरणा बनकर उभरी है। आज बस कुछ ही समय में उनका फाइनल मैच शुरू होने वाला है।

मुक्तसर के गांव कबरवाला में स्थित उनके घर पर मैच से पहले ही लोगों की तरफ से अरदास की जा रही है। आज पूरे देश की निगाहें कमलप्रीत पर टिकी हुई है। मुख्यमंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह ने भी उन्हें मैच के लिए 'गुड लक' कहकर शुभकामनाएं दी है। मुक्तसर के गांव कबरवाला की रहने वाली 25 साल की कमलप्रीत एक किसान परिवार से हैं। फिलहाल वे रेलवे में काम करती हैं। उन्होंने नौ साल का राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़कर टोक्यो ओलंपिक में जगह बनाई थी। 

पंजाब और अपने शहर की अन्य खबरें पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!