Gangs of Punjab: आतंकवाद का संताप झेलने वाला पंजाब बना गैंगस्टरों की कर्मभूमि

Edited By Vatika,Updated: 13 Jun, 2022 02:38 PM

punjab became the land of gangsters

कई सालों तक आंतकवाद का संताप झेलने वाला पंजाब आज कुख्यात गैंगस्टर ओं की कर्मभूमि बनता जा रहा है

अमृतसर (संजीव): कई सालों तक आंतकवाद का संताप झेलने वाला पंजाब आज कुख्यात गैंगस्टर ओं की कर्मभूमि बनता जा रहा है जिसकी जिंदा मिसाल हाल ही में हुए पंजाबी गायक सिद्दू मूसे वाला का कत्ल है। हालात यह हैं कि भारत की 2 फ़ीसदी आबादी वाले इस राज्य में हथियारों की भरमार है। देखा जाए तो देश का कोई भी ऐसा राज्य नहीं जहां गैंगस्टर नहीं है मगर पंजाब में छोटे-बड़े मिलाकर आज 65 के करीब गैंग एक्टिव है। अधिकतर गैंगस्टर जेलों में बंद होने के बावजूद यह गैंग पूरी तरह से सक्रिय है और जेलों से ही ऑपरेट हो रहे हैं। विडंबना यह है कि पता होने के बावजूद पंजाब सरकार एवं पुलिस प्रशासन इन्हें 'डीएक्टिवेट' करने में नाकाम साबित हो रहा है। जिसका खामियाजा राज्य के पूंजीपतियों को झेलना पड़ रहा है।

पंजाब के लिए खतरा बने गैंग

  • लॉरेंस बिश्नोई गैंग
  • जग्गू भगवानपुरिया गैंग
  • गोंडा एंड ब्रदर गैंग
  • सुखा काहलवा गैंग
  • गुरबख्श सेवेवाला गैंग
  • देवेंद्र बंबीहा गैंग
  • हैरी चट्ठा गैंग

पंजाब के लिए सरदर्द बने 7 गैंग
यह वह साथ गैंग है जो पंजाब पुलिस के लिए सरदर्द बने हुए हैं पिछले कुछ सालों के दौरान राज्य में दर्ज किए गए जुर्म के मामलों में अधिकतर हाथ इन्हीं गैंग का रहा है। इनमें से ज्यादातर गैंग के सरगना यां तो पुलिस एनकाउंटर में मारे जा चुके हैं और यां फिर पुलिस उन्हें गिरफ्तार कर जेल में भेज चुकी है मगर विडंबना यह है कि जब से इनके सरगना जिलों में गए हैं यह ज्ञान और भी ताकतवर होते जा रहे हैं तिहाड़ जेल में बंद कुख्यात गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई पर ताजा मामला सिद्दू मूसे वाला के कत्ल का इल्जाम लगा है।

लॉरेंस बिश्नोई गैंग
पुलिस कांस्टेबल का बेटा लायंस बिश्नोई पंजाब के अबोहर में पैदा हुआ था फिल्म स्टार सलमान खान को जोधपुर में मारने की धमकी देने के बाद विश्नोई जुर्म की दुनिया में एक बड़ा नाम बन गया। जबरी वसूली, हत्या, अपहरण, हाईवे राबरी जैसे संगीन अपराध के करीब दो दर्जन मामले विश्नोई पर दर्ज है जोधपुर जेल में बंद बिश्नोई को दिल्ली की तिहाड़ जेल में शिफ्ट किया गया था। स्टूडेंट पॉलिटिक्स के दौर से ही लायंस और गोल्डी बराड़ के बीच खासी दोस्ती रही है। कई संगीन अपराध में संलिप्त होने के बाद गोल्डी बराड़ कनाडा भाग गया और बिश्नोई के जेल जाने के बाद वे उसका काम कनाडा से करने लगा।

जग्गू भगवानपुरिया गैंग
अमृतसर और गुरदासपुर में फिरौती अपहरण वसूली हत्या जैसे संगीन मामलों में एक्टिव जग्गू गैंग का सरगना जग्गू भगवानपुरिया बेशक 2015 में पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था मगर आज भी जग्गू गैंग उसी तरह से एक्टिव है और अपराध की दुनिया में अपना एक बड़ा नाम रखता है।

गोंडा एंड ब्रदर गैंग
पुलिस एनकाउंटर में मारा गया गोंडा एंड ब्रदर गैंग का सरगना विकी गोंडर गैंग आज भी उसी तरह से चल रहा है। गोंडा का नाम उस समय सामने आया जब उसने सुखा कलवा को पुलिस हिरासत में मार डाला था गोंडा डिस्क थ्रो में राष्ट्रीय स्तर का खिलाड़ी था मगर अपने दोस्त की हत्या के बाद खेलों को छोड़ अपराध की दुनिया में आ गया।

बंबीहा गैंग
2016 में हुए एक पुलिस एनकाउंटर के दौरान मारे गए कुख्यात गैंगस्टर देवेंद्र बबीहा का गैंग आज भी एक्टिव है।

सुखा काहलवा गैंग
थोड़े से वक्त में बड़ा नाम बनाने वाला सुखा कालवा खुद को सोशल मीडिया पर बहुत एक्टिव रखता था और उसके सबसे अधिक फॉलोअर थे । कई बार पुलिस हिरासत से भी भाग गया था मगर विकी गाउंडर गैंग ने अपने दोस्त की हत्या का बदला लेने के लिए सुखा काहलवा को अदालत से पेशी के बाद जेल ले जाते समय रास्ते में गोलियां मारकर मौत के घाट उतार दिया था।

गुरबख्श सेवेवाला गैंग
2015 में मारे गए गैंगस्टर रंजीत सेवेवाला का भाई गुरबख्श सेवेवाला आवेश अगेन को जेल से ऑपरेट कर रहा है

चट्ठा गैंग
बटाला का रहने वाला सुखप्रीत सिंह उर्फ चट्ठा गैंग माझा वे उत्तर प्रदेश में एक्टिव है। गोपी घनश्यामपुरिया इस गैंगस्टर का दूसरा बड़ा नाम है मोस्ट वांटेड की लिस्ट में शामिल यह दोनों नाम पुलिस रिकॉर्ड में जबरन वसूली अपहरण हत्या फिरौती के कई मामलों में दर्ज हैं।

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!