स्कूल के पूर्व प्रिंसीपल द्वारा स्टाफ व पंचायत को दी धमकियां, जानें क्या है मामला

Edited By Kamini,Updated: 26 May, 2022 02:53 PM

the former principal of the school threatened the staff and the panchayat

फतेहगढ़ चूड़ियां विधानसभा क्षेत्र के गांव हरदो झंडे के एक सरकारी हाई स्कूल के पूर्व प्रिंसीपल द्वारा स्कूल स्टाफ व पंचायत को ...............

बटाला (योगी, अश्विनी): फतेहगढ़ चूड़ियां विधानसभा क्षेत्र के गांव हरदो झंडे के एक सरकारी हाई स्कूल के पूर्व प्रिंसीपल द्वारा स्कूल स्टाफ व पंचायत को धमकाने का मामला सामने आया है। इस संबंधी जानकारी देते हुए गांव हरदो झंडे के सरपंच राजिंदर सिंह सोढ़ी, सरपंच सुखदेव सिंह, तेजिंदर सिंह ब्यूटी रंधावा, सुखजीत सिंह खैहरा, वरिष्ठ नेता किसान मजदूर यूनियन पंजाब, रणजीत सिंह सदस्य पंचायत, परमजीत सिंह, कुलवंत सिंह, प्रेम सिंह प्रधान, अमरजीत सिंह, सुरजन सिंह, परमजीत सिंह आदि ने सांझा किया कि गुरिंदरजीत सिंह इस स्कूल में पहले प्रिंसीपल थे।

विभागीय कार्यवाही के दौरान उन्हें ड्यूटी से मुक्त कर दिया गया था। इस मामले पर माननीय अदालत में उक्त मामले को लेकर केस कर दिया था जिसमें माननीय अदालत ने विभागीय कार्रवाई पर उन्होंने स्टेय आर्डर दे दिया है। उक्त व्यक्तियों ने बताया कि पूर्व प्रिंसीपल बिना शिक्षा विभाग के आदेश के सरकारी हाईस्कूल हरदो झंडे में हाजिर हो गए जब सरपंचों व पूरी पंचायत द्वारा सकूल के कार्यालय में उपस्थित होने का कारण पूछा गया तो पूर्व प्रिंसीपल ने पंचायत की मौजूदगी में सभी के साथ गलत व्यवहार किया तथा अपने पास पिस्टल होने की धमकियां भी थी।

पंचायत के मोहताबार ने बताया कि पंचायत के अलावा पूर्व प्रिंसीपल ने स्कूल स्टाफ को भी धमकाया था। यह सारी जानकारी समय-समय पर स्कूल के वर्तमान डी.डी.ओ. एवं जिला शिक्षा अधिकारी सीनियर सेकेंडरी गुरदासपुर को फोन व वाट्सएप के माध्यम से दी गई। उन्होंने आरोप लगाया कि स्कूल के अंदर लगे कैमरों से भी पूर्व प्रधान ने छेड़छाड़ की है। सरपंच राजिंदर सिंह सोढ़ी, सरपंच सुखदेव सिंह और किसान नेता सुखजीत सिंह खैहरा ने कहा कि मामले की जानकारी सदर थाने की पुलिस को भी दे दी गई है। स्कूल के वर्तमान प्रिंसीपल और स्टाफ ने भी पूर्व प्रिंसीपल द्वारा धमकाने की पुष्टि की है।

पूर्व प्रिंसीपल का क्या?
मामले को लेकर गुरिंदरजीत सिंह से फोन पर बात की तो उन्होंने कहा कि उनके पास माननीय न्यायालय का स्टेय ऑर्डर है। उन आदेशों के अनुसार वह स्कूल गया, इसके अलावा वह कोई अन्य जानकारी नहीं दे सका।

उच्चाधिकारियों को भेजी जा रही है सूचना : डी.ई.ओ. सैकेंडरी
मौके पर पहुंचकर जिला शिक्षा अधिकारी वरिष्ठ माध्यमिक हरपाल सिंह संधानवालिया ने पंचायत व स्कूल स्टाफ से बातचीत करते हुए उन्हें आश्वासन दिया कि वे मामले की पूरी जानकारी शिक्षा विभाग के आला अधिकारियों के संज्ञान में ला रहे हैं। उन्होंने कहा कि विभाग को माननीय न्यायालय के आदेश की प्रति प्राप्त नहीं हुई है और माननीय न्यायालय के आदेश की प्रति प्राप्त होने के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी। माननीय अदालत के स्थगन आदेश के बाद पूर्व प्रधान शिक्षा विभाग द्वारा जारी आदेश के अनुसार उक्त विद्यालय में ड्यूटी पर उपस्थित हो सकते हैं।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

 

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!