भोगपुर चीनी मिल में आग लगने का मामला, गन्ना किसानों की बढ़ी चिंता

Edited By Kalash,Updated: 02 Aug, 2022 02:33 PM

bhogpur sugar mill accident farmer worried

आग लगने के कारण आने वाले गन्ना पेराई सीजन में मिल के चलने को लेकर किसान परेशान हैं

भोगपुर (सूरी) आग लगने के कारण आने वाले गन्ना पेराई सीजन में मिल के चलने को लेकर किसान परेशान हैं। पंद्रह दिन पूर्व सहकारी चीनी मिल भोगपुर में बिजली पैदा करने के लिए लगे प्लांट के टर्बाइन में अचानक विस्फोट हो गया, जो मिल प्लांट की तीसरी मंजिल पर था, जिससे मिल के बुहत से पुर्जे जल गए थे। मिल की बिजली सप्लाई व्यवस्था को भारी नुकसान हुआ था। बताया जा रहा है कि टरबाइन में विस्फोट से लगी आग से मिल में कुल करीब दस करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। हालांकि मिल प्रशासन दावा कर रहा है कि मिल प्लांट पूरी तरह से बीमा कवर के तहत है और बीमा कंपनी मिल में हुए नुकसान की भरपाई करेगी।

गन्ना किसान परेशान, 27 हजार एकड़ में लगी गन्ने की फसल

भोगपुर चीनी मिल से संबंधित क्षेत्रों में लगभग 27 हजार एकड़ का अनुमानित क्षेत्र गन्ना फसल के अधीन है। सहकारी चीनी मिल भोगपुर द्वारा लगभग 40 लाख क्विंटल गन्ना बांड किया जा रहा है। मिल में हुए हादसे के बाद से हजारों किसान गन्ने की फसल को लेकर चिंतित हैं।अगर मिल ना चल पाई तो वह गन्ने की फसल को लेकर कहाँ जायेगे। 

फगवाड़ा व भोगपुर चीनी मिलों की ओर किसानों का करोड़ों रुपये बकाया

दोआबा क्षेत्र के किसानों द्वारा फगवाड़ा और भोगपुर चीनी मिलों को आपूर्ति किए गए गन्ने के लिए करोड़ों रुपये की राशि बकाया है। सरकार द्वारा जारी धन से भोगपुर मिल ने किसानों को भारी मात्रा में भुगतान किया है, लेकिन मिल अभी भी किसानों का करोड़ों रुपये बकाया है। किसानों का कहना है कि फगवाड़ा चीनी मिल का किसानों का 72 करोड़ रुपये बकाया है।

टर्बाइन मरम्मत के लिए बैंगलोर जाएगी

चीनी मिल में दुर्घटना के कारण क्षतिग्रस्त टर्बाइन को मिल प्रशासन द्वारा बंगलौर भेजने के लिए टर्बाइन को खोला जा रहा है। टर्बाइन को भोगपुर से परिवहन द्वारा बैंगलोर पहुंचने में लगभग 26 दिन और वापसी यात्रा के लिए उतना ही समय लगने की उम्मीद है। टर्बाइन की मरम्मत में भी काफी समय लगेगा। टर्बाइन तैयार होने के बाद इसे फिट होने में भी समय लगेगा।

मिल दुर्घटना का मामला सहकारिता मंत्री और शुगरफेड के सामने उठाया है - मल्ली नंगल

दोआबा किसान संघर्ष समिति के अध्यक्ष बलविंदर सिंह मल्ली नंगल ने कहा है कि भोगपुर चीनी मिल में हुए हादसे का मामला सहकारिता मंत्री और शुगरफेड के समक्ष बैठक में उठाया गया है। हमारी कमेटी हर तरह से किसानों के साथ खड़ी है। सरकार ने आश्वासन दिया है कि गन्ना सीजन से पहले भोगपुर चीनी मिल चालू हो जाएगी।

आगामी गन्ना सीजन के लिए चीनी मिल को उसके उचित समय पर चलाया जाएगा- अरोड़ा

भोगपुर चीनी मिल के मुख्य प्रबंधक अरुण कुमार अरोड़ा ने कहा है कि 15 दिन पहले हुए हादसे के बाद मिल में मरम्मत का काम युद्ध स्तर पर जारी है। आगामी गन्ना सीजन के लिए चीनी मिल को उसके उचित समय पर चला दिया जाएगा।

 

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!