जेल में गैंगस्टरों के कत्ल के बाद वायरल वीडियो ने बयां की जेलों के अंदर की हालत

Edited By Sunita sarangal,Updated: 10 Mar, 2023 10:42 AM

viral video of jail

अब बात अगर जेलों में अनियमितताओं की हो रही है तो लुधियाना की सैंट्रल जेल की चर्चा भला कैसे पीछे रह सकती है।

लुधियाना (स्याल) : साल 2022 में पंजाब में सबसे चर्चित हत्याकांड सिद्धू मूसेवाला के कत्ल के बाद जहां पंजाब में सत्ताधारी सरकार के खिलाफ लोगों में असंतोष फैल गया था, वहीं 2 गैंगस्टरों के जेल में बेरहमी से हुए कत्ल के मामले के आरोपियों की वायरल हो रही वीडियो व जेल के पीछे चल रही इनकी गतिविधियों ने जेल मंत्रालय व ‘आप’ सरकार को कटघरे में लाकर खड़ा कर दिया है। इस मामले में बेशक गोइंदवाल जेल के स्टाफ के ऊपर सरकार का नजला गिरा है और कई जेल अधिकारियों को सस्पैंड कर दिया है लेकिन अब चर्चा छिड़ी है कि गोइंदवाल जैसी बड़ी कार्रवाई पंजाब की बाकी जेलों के स्टाफ पर क्यों नहीं हुई, जहां ऐसे कई मामले वीडियो के जरिए उजागर हो चुके हैं।

लुधियाना जेल के मामले भी किसी से कम नहीं

अब बात अगर जेलों में अनियमितताओं की हो रही है तो लुधियाना की सैंट्रल जेल की चर्चा भला कैसे पीछे रह सकती है। लुधियाना जेल में पिछले कुछ समय में हुक्का पीने, शराब के जाम छलकने सहित कई ऐसे मामले थे जिनकी समय-समय पर जेल के अंदर से ही बंदियों द्वारा वीडियो बनाकर वायरल की जा चुकी है लेकिन गोइंदवाल जैसी कोई कार्रवाई न होने के चलते यहां का प्रशासन भी सुस्त है। सरकार की अनदेखी के चलते स्टाफ में इन घटनाओं को पहलकदमी नहीं दिख रही, क्योंकि रोज लुधियाना जेल से मोबाइलों और वर्जित सामान का मिलना सिद्ध करता है कि जेलों की सुरक्षा अभी भी शंका के घेरे में है।

कम नफरी भी है वजह

उधर, लुधियाना जेल में अगर कोई अनियमितता है तो इसे संबंधित जेल स्टाफ कम नफरी की वजह है जिनका दबी जुबान में कहना है कि जेलों में कैदियों-हवालातियों की संख्या के मुकाबले सरकारी सुरक्षा कर्मियों की गिनती कुछ भी नहीं जिसके चलते अपराधियों के हौसले बुलंद हो जाते हैं और वे जेल स्टाफ को भी कुछ नहीं समझते।

स्पैशल टास्क फोर्स भी कई बार कर चुकी औचक निरीक्षण

बता दें कि लुधियाना जेल में लापरवाहियों के चलते कई बार स्पैशल टास्क फोर्स भी दस्तक दे चुकी है, जिसे यहां गैंगस्टरों के सक्रिय होने की लीड मिलती रही है और जेलों से नशे का नैटवर्क चलाने वाले अपराधी भी काबू किए थे। फिर इस बार चाहे गोइंदवाल जेल से सामने आए हैं लेकिन जेलों में लापरवाहियों का दौर अगर यूं ही जारी रहा तो सुधारघर नाम कहलवाने वाली जेलों को उनके नाम से फिर कभी नहीं जाना जाएगा।

ए.डी.जी.पी. जेल के दौरे की भनक तक नहीं लगी थी

जेल से मोबाइल व अन्य प्रकार का वर्जित सामान समय-समय पर मिलने की वजह से गत दिनों ए.डी.जी.पी. जेल बी. चंद्रशेखर ने दौरा किया था व जेल की सुरक्षा को पुख्ता रखने के निर्देश दिए थे। यह दौरा ऐसा था कि लुधियाना जेल में किसी अन्य को भी पता नहीं चल पाया था। उन्होंने हाई सिक्योरिटी जोन का भी निरीक्षण किया था, जहां पर विभिन्न गैंगों से संबंधित गैंगस्टर किस्म के बंदी बंद हैं।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

 

Related Story

Trending Topics

IPL
Gujarat Titans

Chennai Super Kings

Match will be start at 23 May,2023 07:30 PM

img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!