पूछताछ में लॉरैंस बिश्नोई का खुलासा, यह गाना बना सिद्धू मूसेवाला की हत्या की अहम वजह

Edited By Vatika, Updated: 18 Jun, 2022 11:13 AM

sidhu moosewala murder case

बॉलीवुड की तरह पंजाब की म्यूजिक इंडस्ट्री के ज्यादातर युवा सिंगरों के साथ उत्तरी भारत में सक्रिय प्रमुख गैंगस्टर ग्रुप्स

लुधियाना: बॉलीवुड की तरह पंजाब की म्यूजिक इंडस्ट्री के ज्यादातर युवा सिंगरों के साथ उत्तरी भारत में सक्रिय प्रमुख गैंगस्टर ग्रुप्स के गहरे संबंध और सिंगरों को अपने-अपने इशारों पर चलाने की होड़ के साथ मशहूर पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला द्वारा गाया गाना ‘बंबीहा बोले’ उनकी हत्या की अहम वजह बन सामने आ रहा है। पुलिस गिरफ्त में कुख्यात गैंगस्टर लाॅरैंस बिश्नोई ने पूछताछ में जो खुलासे किए हैं, उससे इस बात की पुष्टि होती नजर आ रही है कि पंजाबी म्यूजिक इंडस्ट्री में गैंगस्टरवाद पूरी तरह से घर कर चुका है।

इसका उपयोग कर गैंगस्टर न सिर्फ लाखों रुपए की एक्सटॉर्शन मनी सिंगरों से वसूलने का काम कर रहे थे बल्कि उन पर अपने लिए गाने भी गंवाने का निरंतर दबाव बनाते थे। तिहाड़ जेल से प्रोडक्शन वारंट पर लाए गए लॉरैंस बिश्नोई ने पुलिस पूछताछ में जहां इस बात का खुलासा किया कि सिद्धू मूसेवाला की हत्या के पीछे की मुख्य वजह अकाली नेता विक्की मिड्डूखेड़ा की हत्या का बदला लेना है, वहीं इसके अलावा भी कई ऐसी वजह हैं जिसके चलते मूसेवाला उसके गैंग के निशाने पर था। पुलिस पूछताछ में लॉरैंस ने खुलासा किया कि उसकी तरफ से मूसेवाला को ‘बंबीहा बोले’ गाना न गाने की सलाह दी गई थी, बावजूद इसके मूसेवाला ने न सिर्फ यह गाना गाया बल्कि देश-विदेश में इस गाने को लोगों ने बेहद पसंद किया। असल में बिश्नोई गैंग और बंबीहा गैंग की दुश्मनी काफी पुरानी है। मोगा के रहने वाले दविंद्र बंबीहा ने अपराध की दुनिया में महज 4 वर्षो में न सिर्फ बड़ा नाम बना लिया था अपितु उसने बिश्नोई गैंग से संबंधित कई सदस्यों की हत्या भी की थी।

इसके बाद से दोनों गैंग में चल रही दुश्मनी अब तक कई जिंदगियां निगल चुकी है, सरपंच रवि ख्वाजके की शादी समारोह के भीतर घुस गोलियां मारकर हत्या करके चर्चा में आए दविंद्र बंबीहा ने एक के बाद एक कई हत्याओं को अंजाम दिया जिसे बाद में पुलिस एन्काऊंटर में मार दिया गया था लेकिन मरने के बाद भी उसका गैंग पंजाब और हरियाणा में निरंतर एक्टिव रहा है जिसे अब लकी पटयाल चला रहा है। जब मूसेवाला ने ‘बंबीहा बोले’ गाना गाया तो लॉरैंस बिश्नोई और उसके गैंग को ऐसा लगा कि उसके गैंग को चिढ़ाने के लिए मूसेवाला ने ऐसा किया है, इसके अलावा भी लॉरैंस की तरफ से सिद्धू मूसेवाला को विरोधी गैंग के समर्थकों द्वारा आयोजित समारोह में जाकर परफॉर्म करने से मना करने की चर्चा है।

उधर, इन बातों को लेकर मूसेवाला और लॉरैंस में चल रही खींचतान ने उस समय गंभीर मोड़ ले लिया जब अकाली नेता विक्की मिड्डूखेड़ा की 2 शूटरों ने गोलियां मारकर हत्या कर दी और उस मामले में पुलिस जांच दौरान सिद्धू के करीबी जिसे उसका मैनेजर बताया जाता था, का नाम सामने आने और उसके देश से फरार हो जाने के बाद यह दुश्मनी और गहरी हो गई और जेल से ही लॉरैंस ने सिद्धू मूसेवाला की हत्या की साजिश प्लान की। इसे अमलीजामा पहनाने के लिए कनाडा में बैठे अपने साथी गोल्डी बराड़ को इसकी जिम्मेदारी सौंपी जिसने हिन्दू नेता विपन शर्मा की हत्या के आरोप में जेल में बंद गैंगस्टर सारज मिंटू को पंजाब के 2 शूटरों का प्रबंध करने और उन्हें वाहन मुहैया करवाने के लिए कहा। इसके अलावा सोनीपत के गैंगस्टर मोनू डागर को 2 शूटरों और उन्हें वाहन उपलब्ध करवाने के जिम्मेदारी लगाई। इसके बाद गोल्डी ने ही मूसेवाला की रेकी करने के लिए केकड़ा जैसे लोगों के साथ संपर्क स्थापित किया। इस मामले को सुलझाने के काफी करीब पहुंच चुकी पंजाब पुलिस अब इस बात को भी जांचने में जुटी हुई है कि थोड़े समय में सफलता के सभी रिकाॅर्ड तोड़ने वाले मूसेवाला की कामयाबी से परेशान और पंजाबी म्यूजिक इंडस्ट्री से संबंधित कोई शख्स तो कही इस हत्याकांड में शामिल तो नहीं है।

Related Story

Trending Topics

Ireland

221/5

20.0

India

225/7

20.0

India win by 4 runs

RR 11.05
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!