Jalandhar : बहन के गांव मुकाबले में हिस्सा लेने आए भाई का शव बरामद, फैली सनसनी

Edited By Subhash Kapoor,Updated: 07 Jun, 2024 11:44 PM

body of brother who had come to sister s village

नूरमहल  से अपनी बहन के गांव गोराया के नजदीकी धुलेता में कबूतरबाजी के मुकाबले में हिस्सा लेने आए भाई  का शव 24 घंटे के बाद गांव के ही खेतों से मिलने के बाद पूरे गांव में  सनसनी फैल गई व गुस्सा आए गांव वासियों के साथ पारिवारिक सदस्यों ने पुलिस के...

गोराया (मुनीश) :  नूरमहल  से अपनी बहन के गांव गोराया के नजदीकी धुलेता में कबूतरबाजी के मुकाबले में हिस्सा लेने आए भाई  का शव 24 घंटे के बाद गांव के ही खेतों से मिलने के बाद पूरे गांव में  सनसनी फैल गई व गुस्सा आए गांव वासियों के साथ पारिवारिक सदस्यों ने पुलिस के खिलाफ नारेबाज़ी करते हुए प्रदर्शन किया। 

इस बाबत जानकारी देते विजय कुमार ने बताया उसका साला दिनेश जिसकी उम्र करीब 42 वर्ष है, जिसके तीन बच्चे हैं और ट्रांसपोर्ट का काम करता था। पहलवानी करता था, जो  वीरवार सुबह 5:00 नूरमहल से गांव धुलेता में कबूतरबाजी के मुकाबले में आया था, जो वीरवार को वापिस ना तो अपने घर नूरमहल गया और ना वह अपनी बहन के घर धुलेता में आया। इसके बाद देर रात वह अपने साले की मिसिंग रिपोर्ट लिखवाने के लिए धुलेता पुलिस चौकी में गए। पर वहां पर उनकी रिपोर्ट नहीं लिखी गई जिसके बाद शुक्रवार सुबह वह पुलिस के पास गए व पुलिस को रिपोर्ट लिखने के लिए कहा तो  पुलिस कर्मचारियों ने कहा कि पारिवारिक सदस्य भी दिनेश की तलाश करें व पुलिस प्रशासन भी उसकी तलाश करता है। इसके बाद उन्होंने बताया कि गांव में लगे सीसीटीवी कैमरो की जांच करने पर सामने आया के गांव का ही एक नशा तस्कर उसके साले को अपने साथ बैठा कर ले जा रहा है। इसके बाद उन्होंने पुलिस को उस नशा तस्कर के घर पर छापेमारी करने के लिए कहां व उसे पकड़ने के लिए कहां पर पुलिस ने उनकी कोई सुनवाई नहीं कि व देर शाम गांव के खेतों में से उसके साले दिनेश का शव खून से लथपथ हालात में बरामद हुआ। इसके बाद पारिवारिक सदस्यों ने जहां चौकी का घेराव किया। वहीं पुलिस प्रशासन के खिलाफ अपना गुस्सा जाहिर किया गांव के पंचायत सदस्य सुखी धुलेता ने कहां के उनके गांव में सरेआम नशे की बिक्री होती है व होलसेल में नशा यहां पर बिकता है। 

पारिवारिक सदस्यों के साथ-साथ गांव वासियों ने मांग करते हुए कहा के आरोपियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करके उन्हें गिरफ्तार किया जाए वह परिवार हो इंसाफ दिलवाया जाए। वहीं इस बाबत एसएचओ गोराया मधुबाला ने कहा कि उन्होंने  फिंगरप्रिंट की टीम मौके पर बुलाई है। दिनेश की मौत का कारण क्या है इसका पता पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आने के बाद ही होगा। पारिवारिक सदस्य जो भी ब्यान देंगे उसके मुताबिक कार्रवाई की जाएगी। जब उनसे पूछा के गांव वासियों का आरोप है की सरेआम गांव में नशे के बिक्री होती है व पुलिस प्रशासन  कार्रवाई नहीं कर रही तो उन्होंने कहां कि पुलिस की ओर से समय-समय पर मामले दर्ज करके आरोपियों को गिरफ्तार किया जा रहा है। अगर फिर भी ऐसा कोई है तो उसके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।

Related Story

Trending Topics

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!