खटकड़ कला में समारोह के लिए करोड़ों खर्च करने वाली 'आप'  सरकार से लोगों ने लगाई यह उम्मीद

Edited By Kamini,Updated: 14 Mar, 2022 09:41 PM

people expected from the government which spent crores for the ceremony

खटकड़ कलां में भगवंत मान सरकार के शपथ ग्रहण समारोह में परियोजना पर 2 करोड़ रुपए खर्च करने के बावजूद, स्थानीय लोगों को उम्मीद है ...........

जालंधर/नवांशहर : खटकड़ कलां में भगवंत मान सरकार के शपथ ग्रहण समारोह में परियोजना पर 2 करोड़ रुपए खर्च करने के बावजूद, स्थानीय लोगों को उम्मीद है कि 'आप' सरकार शहीद भगत सिंह के पैतृक घर से सटे मेमोरियल पार्क के बकाया बिजली बिलों का भुगतान करेगी। मेमोरियल पार्क के 1.7 लाख रुपए के बिजली बिलों का पिछले 2 साल से भुगतान नहीं किया गया है। नवंबर 2019 से बिल बकाया हैं, जबकि शहीद-ए-आजम भगत सिंह मेमोरियल संग्रहालय और पुश्तैनी घर के बिजली बिलों को मंजूरी दे दी गई है। 16 मार्च को मुख्यमंत्री की मेजबानी के लिए खटकड़ कलां तैयार होने के बावजूद पार्क की अनदेखी की गई है।

PunjabKesari

सूत्रों ने कहा कि आवश्यक कर्मचारियों की अनुपलब्धता के कारण हाल के दिनों में छंटनी हो रही है और कर्मचारियों के वेतन में अक्सर देरी होती रही है। शहीद भगत सिंह वेलफेयर सोसायटी खटकड़ कलां के अध्यक्ष गुरजीत सिंह ने कहा उन्हें  खुशी है कि यहां शपथ ग्रहण समारोह हो रहा है और उम्मीद है कि स्मारक पर ध्यान दिया जाएगा। यदि समारोह पर 2 करोड़ रुपए खर्च किए जा रहे हैं तो स्मारक के रख-रखाव के लिए कुछ राशि आसानी से अलग रखी जा सकती है। उन्हें उम्मीद है कि नई सरकार का फोकस खास मौकों तक ही सीमित नहीं रहेगा।

PunjabKesari

गुरजीत सिंह ने आगे कहा कि ग्रामीणों द्वारा पार्क के लिए 30 हजार रुपए का लॉनमूवर प्रदान किया गया। हाल ही में ग्रामीणों से फव्वारे से अतिरिक्त पानी की निकासी के लिए पंप की व्यवस्था करने का भी अनुरोध किया गया था। सरकार को यह व्यवस्था करनी चाहिए। शहीद-ए-आजम भगत सिंह लाइब्रेरी भी बंद है। सरकार को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि वार्षिक बजट में स्मारक और पार्क की सभी आवश्यकताओं को पूरा किया जाए।

कांग्रेस नेता नवजोत सिद्धू ने 2 साल पहले पुश्तैनी मकान के बकाया के लिए अढ़ाई लाख रुपए का दान दिया था। कुछ लाइटों और मोटरों ने भी समय के साथ काम करना बंद कर दिया है। आत्मा राम एस.डी.ओ. बिजली विभाग बंगा ने बताया कि नवंबर 2019 से 1.70 लाख रुपए के बिजली बिल बकाया हैं। सरकार को मासिक रिमाइंडर भेजा जा रहा हैं। पार्क में फव्वारा संचालित करने के लिए 4 मोटरों के लिए 50-70 किलोवाट का मध्यम आपूर्ति कनेक्शन है। एस.डी.एम. नवनीत बल ने बताया कि डेढ़ लाख रुपए से अधिक का बिल बकाया है। लोगों ने इस मुद्दे को पर्यटन विभाग के समक्ष उठाया है और शेष का भुगतान जल्द किया जाएगा।
 

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!