खुलासा: खालिस्तानी आतंकवादी मुल्तानी से जुड़ रहे हैं टिफिन बम के तार!

Edited By Vatika, Updated: 21 May, 2022 12:35 PM

errorists are connecting to multani with strings of tiffin bombs

बुड़ैल जेल की दीवार के पास बरामद टिफिन बम और अन्य विस्फोटक साम्रगी के मामले

चंडीगढ़(संदीप): बुड़ैल जेल की दीवार के पास बरामद टिफिन बम और अन्य विस्फोटक साम्रगी के मामले के तार खालिस्तानी आतंकवादी जे.एस. मुल्तानी से जुड़े होने के संकेत पुलिस को मिले हैं। इस बात का खुलासा पुलिस की साइंटिफिक जांच के दौरान हुआ है।  सूत्रों के अनुसार केस की जांच में यह भी पता चला है कि बुड़ैल जेल की दीवार के पास विस्फोटक रखे जाने की साजिश जर्मनी में रची गई थी। गौरतलब है कि लुधियाना कोर्ट में हुए धमाके के आरोपी को गत दिसंबर के दौरान जर्मनी में गिरफ्तार किया गया था।फिलहाल मामले में पुलिस की कार्रवाई जारी है, लेकिन मुल्तानी की भूमिका का पता लगाया जा रहा है। पुलिस ने अभी तक की जांच केआधार पर सैक्टर-49 थाना पुलिस द्वारा दर्ज केस में अब यू.ए.पी.ए. की धारा भी जोड़ दी गई है।

एन.एस.जी. ने डिफ्यूज किया था विस्फोटक
सुरक्षा एजैंसियों से अलर्ट मिलने के बाद 23 अप्रैल को ऑप्रेशन सैल की टीम क्यूआरटी के साथ बुड़ैल जेल के पास पहुंची तो धुआं नजर आया। डिस्ट्रिक्ट क्राइम सैल की टीम भी मौके पर पहुंची। पुलिस टीम टिफिन, डेटोनेटर और कोडेक्स तार जलते देख सतर्क हो गई। मौके पर एस.एस.पी. कुलदीप सिंह चाहल भी पहुंचे थे। भारतीय सेना की पश्चिमी कमान की बी.डी.एस. टीम भी पहुंची। चंडीगढ़ पुलिस व बी.डी.टी, आई.ए. जांच के बाद टिफिन में विस्फोटक की बात सामने आई। आई.ई.डी. को बम डिस्पोजल बॉक्स और रेत के थैले से ढक दिया गया। सुरक्षित डिफ्यूजल को मानेसर से एन.एस.जी. को बुलाया गया था। 24 अप्रैल को एन.एस.जी. की टीम ने विस्फोटक को सुरिक्षत नष्ट कर दिया। मौके से काला बैग भी मिला, जिसमें उर्दू पाकिस्तानी अखबार में लिपटा डेटोनेटर, कीलों वाला छोटा पॉलीपैक और उन पर खालिस्तान एक्शन फोर्स लिखा हुआ कुछ प्रिंटआउट भी बरामद किए गए थे।

जांच दौरान घटना स्थल का डंप डाटा लिया गया। साथ ही आसपास लगे सी.सी.टी.वी. की फुटैज भी जांची गई। संदिग्ध नंबरों को शॉर्ट लिस्ट किया, जिसमें एक मोबाइल घटना के समय से स्विच ऑफ पाया गया। जांच में पाया गया कि उक्त नंबर से जर्मनी में अंतरराष्ट्रीय कॉल की गई है, जो जांच करने पर जे.एस. मुल्तानी का पाया गया। मुल्तानी पहले भी आतंकी गतिविधियों में संदिग्ध रहा है। 28 अप्रैल को जब बी.डी.एस. टीम ने गहनता से तलाशी की तो एक रेडमी ब्लैक कलर मोबाइल हैंडसेट और अन्य डेटोनेटर बरामद किया। मोबाइल फोन चैक करने पर मुल्तानी के साथ फिर से लिंक होने की बात सामने आई है। बरामद मोबाइल व अन्य साामान को जांच के लिए सी.एफ.एस.एल. भेज दिया गया है और मामले में आगे की जांच की जा रही है।

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!