CM मान हुए सख्त, वित्तीय अफसरों को जारी किए आदेश

Edited By Urmila,Updated: 30 Mar, 2022 12:47 PM

cm mann issued orders to the group district treasury ministers of the state

भगवंत मान जब से सी.एम. बने हैं तब से उन्होंने पंजाब की कमान को कस कर पकड़ लिया है। पंजाब को शिखर तक पहुंचाने के लिए निर्देशों व आदेशों की झड़ी लगा दी है। आए दिन सरकारी ...

चंडीगढ़ः भगवंत मान जब से सी.एम. बने हैं तब से उन्होंने पंजाब की कमान को कस कर पकड़ लिया है। पंजाब को शिखर तक पहुंचाने के लिए निर्देशों व आदेशों की झड़ी लगा दी है। आए दिन सरकारी विभागों में सुधार लाने व सरकारी कर्मचारियों द्वारा चलाए जा रहे सिस्टम को पारदर्शी तरीके से चलाने के लिए कोई न कोई हिदायतें जारी की जा रही हैं। इसी के चलते भगवंत मान ने राज्य के समूह जिला वित्त विभाग को निर्देश जारी करते हुए कहा कि अब एक सरकारी कर्मचारी एक वर्ष से ज्यादा अपनी सीट पर काम नहीं करेगा। उन्होंने कहा कि इस तरह करने से मोनोपली की संभावना से बचा जा सकता है।

यह भी पढ़ें :  केंद्र सरकार ने पंजाब को दिया एक और झटका, अब रोका इस फंड का पैसा

उन्होंने समूह अधिकारियों व कर्मचारियों को हिदायतें और आदेश देते हुए कहा कि कोई भी कर्मचारी दफ्तर में अपनी सीट पर देर से उपस्थित न हो, समय सिर अपने दफ्तर हाजिर हों। पैंशनर्ज, पब्लिक, सरकारी मुलाजिमों को किसी भी तरह की कोई दिक्कत नहीं आनी चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर कोई अधिकारी छुट्टी पर जाता है तो उसे अपनी जगह किसी अन्य अधिकारी को तैनात करना होगा। यदि वित्तीय या उप-वित्तीय दफ्तर के बिल प्राप्त होने पर तुरंत चैक किए जाए। पाप्त हुए बिलों पर एक बार ही एतराज जताया जा सकेगा। अगर कोई एतराज जताया जाता है तो उसके बिल की कापियां बिना किसी देरी के संबंधित डी.डी.ओ. को वापिस भेजी जाएं।

यह भी पढ़ें : पंजाब में इस तारीख से शुरु होगी गेहूं की खरीद, जारी हुए ये निर्देश

इसके अलावा चैक लिस्टें यानी की बिलों के साथ कौन-कौन से दस्तावेज लगाने जरूरी हैं उनकी डिटेल नोटिस बोर्ड पर लगाई जाए तथा बिलों से संबंधित वित्त विभागों को समय-समय पर जारी हिदायतें भी नोटिस बोर्ड पर लगाई जाएं। खजानों में उपलब्ध अष्टामों व टिकटों की गिनती हर रोज नोटिस पर सार्वजनिक की जाएं।

यह भी पढ़ें : भगवंत मान सरकार का एक और बड़ा फैसला, पंजाब के सभी Improvement Trust किए भंग

सी.एम. मान ने कहा कि वित्तीय दफ्तरों के बाहर शिकायत बॉक्स को इस तरह लगाया जाए कि आम व्यक्ति आसानी से अपनी शिकायत उस बॉक्स में डाल सके। संबंधित जिला खजाना अफसर शिकायत बॉक्स को हर रोज चैक करें और प्राप्त हुई शिकायतों को शिकायत रजिस्टर में दर्ज कर उस पर बनती कार्यवाही की जाए। इन शिकायतों का एक सप्ताह के अंदर-अंदर निपटारा किया जाना यकीनी बनाया जाए। शिकायत दर्ज करवाने के लिए नोटिस बोर्ड पर संबंधित अधिकारी का नाम, पद व संपर्क नंबर जारी किया जाए।

यह भी पढ़ें : Photos: लुधियाना बम Blast मामले में नया मोड़, NIA के हाथ लग सकता है बड़ा सुराग

उन्होंने कहा कि आम जनता के साथ नरमी से पेश आया जाए और उनकी समस्याओं को पहल के आधार पर हल किया जाए। जब आम जनता दफ्तर में आए तो उनके बैठने का इंतजाम किया जाए। आम जनता की गई छोटी सी चूक भी संबंधित अधिकारियों व कर्मचारियों महंगी पड़ सकती है। इस दौरान जिला वित्तीय अफसर समय-समय पर यह यकीनी बनाए कि जिला वित्तीय दफ्तर व उप-वित्तीय दफ्तरों में इन सारी हिदायतों की पालना की जा रही है। इस संबंधी सारी कारगुजारी हर महीने की 10 तारीख को मुख्य दफ्तर को ई-मेल की जाए। सी.एम. मान ने कहा कि इस ई-मेल को reasurycomplaints@gmail.com पर भेज कर यकीनी बनाई जाए। 

PunjabKesari

PunjabKesari

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!