Love Marriage से खफा भाई बना दुश्मन, जीजा पर दागीं गोलियां

Edited By Kamini,Updated: 08 Jun, 2022 08:58 PM

angry brother became enemy due to love marriage fired bullets

अमृतसर के एक युवक पर गोलियां चलने का मामला सामने आया है। जानकारी के अनुसार लड़का अमृतपाल की 2 महीने पहले.........

अमृतसर (जशन) : आज उस समय मानवता के रिश्ते तार-तार होते दिखे, जब अपनी बहन (गुरप्रीत कौर) की लव मैरिज से खफा भाई (चरनजीत ) ने अपने दो दोस्तों के साथ मिलकर अपने ही जीजा ( अमृतपाल सिंह) को मौत के घाट उतारने के लिए उस पर 2 गोलियां दाग दी। ये सारा मामला लड़की-लडक़े द्वारा लव मैरिज करवाने को लेकर घटित हुआ। अब अमृतपाल सिंह की हालत काफी गंभीर है और वह आप्ररेशन थियेटर में जिंदगी व मौत के बीच जूझ रहा है।  लड़की किरन ने बयान दिया है कि उसकी लव मैरिज जिससे उसका भाई खुश नहीं था उन्होंने कोर्ट मैरिज की है। वह ऑटो में फोन की किस्त जमा करवाने जंडियाला गए थे। वापस आते समय उनका ऑटो वाला रुका सामने से लड़की का भाई और उसका दोस्त आए और 2 फायर करके भाग गए। लड़की ने यह बताया कि उसके भाई के पास पिस्टल गैर कानूनी है।

लडक़ी का दावा है कि उसके भाई चरनजीत सिंह के पास 2-3 अवैध हथियार हैं और उस पर 3-4 केस पहले से ही चल रहे है। वहीं दूसरी ओर अमृतपाल सिंह उर्फ मनू गली नंबर 5, कृष्णा नगर, जौडा फाटक का रहने वाला है। उसकी पत्नी गुरप्रीत कौर उर्फ किरण जंडियाला की रहने वाली है। उनकी अभी विगत 2 माह पहले ही कोर्ट में लव मैरिज हुई थी। इस सबंध में लव मैरिज करवाने वाली लडक़ी गुरप्रीत कौर उर्फ किरण ने कहा कि उसकी अमृतपाल सिंह से दोस्ती हुई थी और ये दोस्ती जल्द ही प्यार में बदल गया और फिर अभी दो महीने पहले ही हमने लव मैरिज करवाई थी। उसने बताया कि जब हमने कोर्ट मैरिज करवाकर अमृपाल के घर आए तो उसका परिवार फिर हमसे सहमत हो गया, परंतु मेरी मां और भाई नहीं मान रहा था।  शादी के कुछ बाद से ही उसके पति को मारने की धमकी मिल रही थी। आज लड़की के भाई ने मौका देखकर वारदात तो अंजाम दे दिया। 

आज सुबह दोनों पति-पत्नी (मनू व किरण) अपने मोबाईल की मासिक किश्त देने के लिए जंडियाला गए और वहां पर जब किश्त अदा करके वापिस आ रहे थे तो उसके भाई चरणजीत सिंह व उसके दो अन्य साथियों के साथ मोटरसाइकिल से पीछा करना शुरू कर दिया। जब वे मानावाला स्थित अस्पताल के पास पंहुचे तो उसके भाई ने अपनी बाईक को हमारे आटो के आगे रोक लिया। इस पर जब आटो रूका तो तुरंत ही उसके भाई चरनजीत ने अमृतपाल सिंह को आटो से उतारकर पिस्तौल से गोली दाग दी, जोकि उसके पेट पर लगी। अमृतपाल सिंह वहीं गिर पड़ा। गोलियां चलाते ही उक्त तीनों लडक़े बाईक पर सवार होकर मौके से फरार हो गए।

 

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!