सोशल मीडिया पर गैंगस्टर एक्टिव, पुलिस की तकनीक से कहीं आगे

Edited By Kamini, Updated: 23 Jun, 2022 03:23 PM

active on social media punjab s gangster is far ahead of police s technology

पंजाब गैंगवार जैसी वारदातें रुकने के नाम नहीं ले रही है आए दिन हो रहे हत्याकांड की वारदातों ने पंजाब को हिला दिया है...........

चंडीगढ़: पंजाब गैंगवार जैसी वारदातें रुकने के नाम नहीं ले रही है आए दिन हो रहे हत्याकांड की वारदातों ने पंजाब को हिला दिया है। गैंगस्टर वारदात को अंजाम देने के बाद बेखौफ होकर जिम्मेदारी भी लेते हैं। बता दें 3 सालों 7 हत्याकांड की वारदातें हो चुकी है। इन हत्याओं को अंजाम देने वाले बड़े गैंगस्टरों के 100 से भी ज्यादा पेज सोशल मीडिया पर एक्टिव हैं। यह एक्टिव पेज मौजूदा गैंगस्टरों व मारे जा चुके गैंगस्टरों के है। जानकारी के अनुसार अब तो अवैध हथियार भी विभिन्न नामों से फेसबुक पर बेचे जाने लगे हैं। इन गैंगस्टरों के अकाऊंट  कहां से एक्टिव होते हैं और इन पेजों को कौन ऑपरेट कर रहा है पुलिस अब तक इसकी जड़ तक नहीं पहुंच पाई है। 

यह पता चला है कि यह बड़े गैंगस्टर मल्टीपल प्रॉक्सी सर्वर और वी.पी.एन. का इस्तेमाल करते हैं जिससे इन यूजरों को ट्रैक करना बहुत मुश्किल हो जाता है। इसी कारण पुलिस इन गैंगस्टरों की लोकेशन व और आई.पी. पते को ट्रेस करने में असफल हो जाती है। इन गैंगस्टरों की सोशल मीडिया पर पेजों को आम युवक भी फॉलो कर रहे हैं। 

पूर्व डी.जी.पी. शशि कांत ने बताया कि पंजाब के गैंगस्टर पुलिस की तकनीक से कहीं आगे हैं। जानकारी के अनुसार गैंगस्टर वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क (वी.पी.एन.) और मल्टी प्रॉक्सी सर्वर इस्तेमाल करते हैं और वह अपने आई.पी. एड्रेस वी.पी.एन.  को छुपा देते हैं। इस कारण जब इंटरनेट एक्सेस होते है तो सर्वर एक्सेस किसी और देश का देता है। आई.जी. साइबर क्राइम डीविजन मोहाली से राजेश कुमार ने जानकारी दी है कि इंस्टाग्राम, फेसबुक, ट्विटर पर ज्यादातर फर्जी आई.डी., नंबर व पते का इस्तेमाल होते है। जो पेज एक्टिव हैं उन्हें बंद करने के लिए गृह मंत्रालय व फेसबुक को लिखेंगे। एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स द्वारा मौजूदा गैंगस्टरों व मारे जा चुके गैंगस्टरों के एक्टिव पेजों की सूची तैयार की जा रही है। 

इन बड़े गैंगस्टरों के पेज सोशल मीडिया पर एक्टिव रहते हैं वह विक्की गौंडर, लॉरेंस बिश्नोई, गोल्डी बराड़, दविंदर बंबीहा। विक्की गौंडर के 10 पेज सोशल मीडिया पर एक्टिव हैं और वह 2018 में पुलिस एनकाऊंटर में मारा गया था। लॉरेंस बिश्नोई के फेसबुक के 7-8 पेज हैं और इसकी गैंग में 600 शूटर हैं और यह अब पुलिस गिरफ्त में है जिससे सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड मामले में पूछताछ की जा रही है। गोल्डी बराड़ ने सिद्धू मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी ली है और अब वह कनाडा में लॉरेंस के कहने पर काम करता है। दविंदर बंबीहा के भी अभी तक 10 पेज एक्टिव हैं और वह 2016 में पुलिस एंकाऊंटर में मारा गया था। 

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


 

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!