गोलीकांड मामले में नया मोड़, एस.एच.ओ. खिलाफ लिया ये एक्शन

Edited By Subhash Kapoor,Updated: 12 Jun, 2022 10:30 PM

a new twist in the shooting case officials said

शनिवार शाम को सुलतानविंड क्षेत्र के अर्तगत आते क्षेत्र में पार्षद पुत्र बब्बा द्वारा सरेआम किए गए गोली कांड में उस वक्त नया मोड आ गया, जब पुलिस प्रशासन इस मामले में कोताही बरतने के आरोप में थाना इंचार्ज लवजीत सिंह गिल को निलंबित कर दिया।

अमृतसर (जशन) : शनिवार शाम को सुलतानविंड क्षेत्र के अर्तगत आते क्षेत्र में पार्षद पुत्र बब्बा द्वारा सरेआम किए गए गोली कांड में उस वक्त नया मोड आ गया, जब पुलिस प्रशासन इस मामले में कोताही बरतने के आरोप में थाना इंचार्ज लवजीत सिंह गिल को निलंबित कर दिया। अब नई तैनाती के तौर पर पुलिस ने थाना बी डिविजन के इंचार्ज के तौर पर हरसंदीप सिंह को लगाया है। पुलिस ने इस मामले में एस.एच.ओ. को निलंबित कर अपने डैमेज कंट्रोल करने व अपनी छवि ठीक करने की कोशिश की है, परंतु राज्य भर के लोगों में इस कांड को लेकर कई भ्रांतिया घर कर चुकी है।  

गौरतलब है कि दूसरे पक्ष के लोगों द्वारा एस.एच.ओ. लवजीत सिंह गिल को फोन पर जानकारी दी थी, परंतु एस.एच.ओ. ने खुद मौके पर जाने की बजाए अपने अधीन कर्मचारियों को भेज दिया। फिर उक्त पुलिस कर्मचारियों की मौजूदगी में ही पार्षद पुत्र बब्बा ने गोलियां दाग दी थी। इस गोलीकांड में 6 राऊंड गोलियां चली थी। गोली लगने से एक राजा नामक व्यक्ति की मौत हो गई थी और दो अन्य व्यक्ति घायल हो गए थे। इस मामले को लेकर पूरे क्षेत्र के लोगों में आक्रोश है और वो लोग पुलिस की ढीली कार्यप्रणाली की भी जमकर आलोचना कर रहे है।  

वहीं पुलिस ने इस मामले में 8 व्यक्तियों को आरोपी बनाया है। इसमें पुलिस ने 5 पर बाई नेम व 3 अज्ञात व्यक्तियों पर मामला दर्ज किया है। आरोपियों की पहचान पार्षद पुत्र चरणदीप सिंह बब्बा निवासी आजाद नगर, रिम्पी, हैप्पी, धर्मिंद्र सिंह, भोलू, नोना निंहग व 3 अज्ञात व्यक्तियों के तौर पर हुई है। पुलिस ने आरोपियों के पास से वारदात में प्रयोग की गई पिस्तौल, 2 खोली खोल व एक गोली सिक्का बरामद किया है। पुलिस ने गोली कांड के मुख्य आरोपी पार्षद पुत्र चरणजीत सिंह बब्बा को गिरफतार कर लिया है। पुलिस ने मुख्य आरोपी को माननीय अदालत में पेश किया, जहां पर अदालत ने आरोपी को 4 दिन के पुलिस रिमांड पर पुलिस को सौंपा है। 

पुलिस अब इस मामले को हर एक ऐंगल से देख रही है। वहीं पता चला है कि पुलिस की अब आंख एक निंहग सिंह पर लगी है। सूत्रों का कहना है कि पुलिस का मानना है कि इस निंहग सिंह का इस कांड में अहम रोल है। आखिर इस निंहग सिंह ने उक्त सारे मामले के दौरान अपना मुंह क्यों ढका रखा, इसको लेकर उस पर शक और गहराता जा रहा है।

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!