PSTET में नकल करवाते पाए गए तो नौकरी से धोना पड़ेगा हाथ

Edited By Vatika,Updated: 02 Jan, 2020 01:51 PM

punjab state teachers eligibility test exam

5 जनवरी को होने वाले पंजाब स्टेट टीचर एलिजिबिलिटी टैस्ट (पी.एस.टी.ई.टी.) में नकल को रोकने के लिए भी स्टेट कौंसिल ऑफ एजुकेशन एंड रिसर्च (एस.सी.ई.आर.टी.) ने कमर कस ली है।

लुधियाना(विक्की): 5 जनवरी को होने वाले पंजाब स्टेट टीचर एलिजिबिलिटी टैस्ट (पी.एस.टी.ई.टी.) में नकल को रोकने के लिए भी स्टेट कौंसिल ऑफ एजुकेशन एंड रिसर्च (एस.सी.ई.आर.टी.) ने कमर कस ली है। यही वजह है कि कौंसिल ने ड्यूटी पर तैनात होने वाले स्टाफ को दो टूक कहा है कि अगर अध्यापक योग्यता टैस्ट के दौरान नकल जैसी किसी भी गतिविधि में संलिप्त पाए गए तो नौकरी से हाथ धोना पड़ सकता है।

बुधवार को एस.सी.ई.आर.टी. के परीक्षा कंट्रोलर ने एक चेतावनी पत्र जारी करते हुए परीक्षा में अपीयर होने वाले परीक्षार्थियों को साफ कहा है कि अगर परीक्षा केंद्र में कोई परीक्षार्थी किसी को नकल करवाता पकड़ा गया तो उसके खिलाफ भी सख्त कार्रवाई की जाएगी। जानकारी के अनुसार पंजाब में 251 सैंटर बनाए गए हैं, जिनमें ये परिक्षा ली जाएगी।जानकारी के मुताबिक पी.एस.टी.ई.टी. के लिए पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड ने नए एडमिट कार्ड भी जारी कर दिए हैं क्योंकि यह परीक्षा पहले 22 दिसम्बर को होनी थी लेकिन कुछ प्रशासनिक कारणों के चलते इसके आयोजन की तारीख को बदलकर 5 जनवरी कर दिया गया। पी.एस.ई.बी. ने परीक्षार्थियों को बोर्ड की आधिकारिक वैबसाइट से एडमिट कार्ड डाऊनलोड करने की सलाह दी है। बात अगर लुधियाना की करें तो परीक्षा के लिए लुधियाना में 29 परीक्षा केंद्र विभिन्न निजी, एडिड व सरकारी स्कूलों में बनाए गए हैं। हरेक परीक्षा केंद्र में 28 परीक्षार्थियों पर एक निगरान की ड्यूटी लगाई गई है। 

फ्लाइंग टीमें करेंगी चैकिंग 
परीक्षा में नकल को रोकने के लिए भी फ्लाइंग टीमें बनाई गई हैं। एस.सी.ई.आर.टी. ने कहा है कि यदि कोई कर्मचारी परीक्षा के दौरान नकल करवाते पाया गया तो उसको नौकरी से बर्खास्त कर दिया जाएगा जो फिर बहाल नहीं होगा। वहीं यदि कोई परीक्षार्थी  किसी को नकल करवाते पाया गया तो उसके खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई की जाएगी। 

तीसरी आंख के साए में होगी परीक्षा
पी.एस.ई.बी. की ओर से परीक्षा के आयोजन संबंधी जारी निर्देशों में कहा गया है कि हरेक परीक्षा केंद्र पर परीक्षा के दौरान वीडियोग्राफी की जाएगी। वीडियोग्राफी के लिए वीडियोग्राफर का प्रबंध जिला मैनेजर को करना होगा। बोर्ड के मुताबिक परीक्षा से जुड़ी हर प्रक्रिया की वीडियोग्राफी करवाई जानी अनिवार्य है। इसके बाद वीडियोग्राफी की सी.डी. बनाकर जिले में स्थापित नोडल सैंटर पर जमा करवानी होगी। 

परीक्षा का शैड्यूल
-पेपर वन-सुबह 10 से 12.30 बजे तक
-पेपर टू-दोपहर 2.30 से 5 बजे तक 
-सुबह के सैशन में सुबह 10.30 और शाम को 3 बजे के बाद नो एंट्री
-दिव्यांग कैंडीडेट को मिलेगा 50 मिनट का अधिक समय

परीक्षा कंट्रोलर के लिए अहम निर्देश
-लोकल प्रशासन से लगवाएं परीक्षा केंद्र के आसपास धारा 144
-पुलिस कर्मियों की ड्यूटी सैंटर के गेट पर होगी
-सैंटर में एंट्री नहीं करेंगे पुलिस कर्मी
-कैंडीडेट्स के लिए पानी का हो प्रबंध
-कैंडीडेट को घड़ी या इलैक्ट्रोनिक्स डिवाइस पर पाबंदी 
-4 जनवरी को खुलेंगे परीक्षा केंद्र
-सुपरिटैंडैंट का सहयोग करें कंट्रोलर

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!