ससुरालियों ने ढाया कहर: 11 दिनों तक जिंदगी और मौत की जंग लड़ती रही ये विवाहिता..

Edited By Vatika,Updated: 25 Jul, 2022 05:03 PM

this married woman fought for life for 11 days died

गांव ताजोके में ससुराल परिवार से पीड़ित एक विवाहिता ने जहरीली दवा निगल ली, जिसकी डी.एम.सी. अस्पताल में मौत हो गई।

तपा मंडी (गर्ग, शाम): गांव ताजोके में ससुराल परिवार से पीड़ित एक विवाहिता ने जहरीली दवा निगल ली, जिसकी डी.एम.सी. अस्पताल में मौत हो गई। पुलिस ने ससुराल परिवार के ससुर, जेठ-जेठानी और पति के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। इस संबंध में मृतका की मां गुरमीत कौर पत्नी गुरदीप सिंह निवासी अकलिया निवासी ने पुलिस में बयान दर्ज करवाया है कि मेरी बेटी अमनदीप कौर की शादी ताजो निवासी बूटा सिंह पुत्र बलवीर सिंह उर्फ ​​सौनी से लगभग 7 साल पहले हुई थी जिस दौरान लाखों रुपए खर्च किए थे।

शादी के बाद ससुराल वालों ने उसकी बेटी को मायके परिवार से दहेज लाने के लिए मारना और प्रताड़ित करना शुरू कर दिया लेकिन मायका गरीब परिवार होने से उनकी मांगें पूरी करने में सक्षम नहीं था। उन्होंने कहा कि 3 बार पंचायत और ग्राम प्रधानों ने उसकी बेटी को राजीनामा करवाकर भेजा, लेकिन ससुराल वालों के अड़ियल रवैये के कारण उन्होंने उसकी पिटाई बंद नहीं की, जिसके गर्भ से 5 साल का एक लड़का भी है। इससे लड़की ने तंग आकर 12 जुलाई को कोई जहरीली दवा पी गई, जिससे पता चला कि मेरी लड़की ने बूटा सिंह पुत्र जोगिंद्र सिंह (ससुर), जगसीर सिंह उर्फ ​​जग्गी (जेठ), राजवीर कौर (जेठानी), बलवीर सिंह उर्फ ​​सोनू (पति) से घर में पड़ी जहरीली दवाई तंग निगल ली, जिसे तपा के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया, लेकिन हालत गंभीर देखकर उसे डी.एम.सी. लुधियाना रैफर कर दिया गया, जहां 11 दिनों तक जिंदगी की जंग लड़ने के बाद 23 जुलाई को उनकी मौत हो गई।

मायका परिवार का आरोप है कि ससुराल वालों ने घटना वाले दिन 2 घंटे देरी से उन्हें घटना के बारे में बताया और डी.एम.सी. अस्पताल में इलाज के लिए पैसे देने से भी इंकार कर दिया और लुधियाना के अस्पताल में मरने से पहले, उसने एक वीडियो भी जारी किया जिसमें वह अपने ससुराल वालों द्वारा मारपीट किए जाने का आरोप लगाकर अपनी फरियाद लगाने की गुहार लगा रही है।  मौत की जानकारी होने पर सरपंच भगवान सिंह, पंच लाल खान, पंच भोला सिंह, मक्खन सिंह, दलीप सिंह, जीवन सिंह, बूटा सिंह, गुरप्रीत सिंह पिथो, मुकंद सिंह, राज सिंह, जीत सिंह, देव सिंह, हरतेज सिंह, गुरतेज सिंह मेहराज आदि परिजनों ने बड़ी संख्या में पुलिस प्रशासन से मांग की है कि आरोपियों को जल्दी से जल्द गिरफ्तार करके इंसाफ दिया जाए। जांच अधिकारी जसवीर सिंह ने बताया कि मृतका की माता के ब्यानों पर आरोपियों पर मामला दर्ज करके लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और उन्होंने आरोपियों को जल्द पकड़ने का आश्वासन भी दिया।
 

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!