गेट का ताला तोड़ने के लिए मजबूर हुई संगत, दी यह चेतावनी

Edited By Urmila,Updated: 09 Apr, 2022 01:20 PM

sangat was forced to break the lock of the gate gave this warning

श्री गुरु गोबिंद सिंह जी की चरण छू सम्बन्धित ऐतिहासिक किले और निहंग खां की कब्रों को बचाने के लिए शुक्रवार समूह इलाका निवासियों, कीर्ति किसान मोर्चा रूपनगर और पंजाब स्टूडैंट यूनियन...

रूपनगर (विजय): श्री गुरु गोबिंद सिंह जी की चरण छू सम्बन्धित ऐतिहासिक किले और निहंग खां की कब्रों को बचाने के लिए शुक्रवार समूह इलाका निवासियों, कीर्ति किसान मोर्चा रूपनगर और पंजाब स्टूडैंट यूनियन की तरफ से रोष प्रदर्शन किया गया। इस सम्बन्धित इन जत्थेबंदियां की तरफ से अनाज मंडी रूपनगर में धरना दिया जिसके बाद कोटला निहंग तक रोष मार्च किया गया।

यह भी पढ़ेंः CM भगवंत मान ने गैंगस्टर कल्चर के खात्मे के लिए उठाया अहम कदम

PunjabKesari

जत्थेबंदियों के नेताओं ने कहा कि गांव कोटला निहंग में श्री गुरु गोबिन्द सिंह जी की चरण छू से सम्बन्धित ऐतिहासिक किला और श्री गुरु गोबिन्द सिंह जी प्रति अथाह श्रद्धा रखने वाले परिवार निहंग खां से सम्बन्धित कब्रों के साथ सम्बन्धित भूमि पर भूमि-माफिया द्वारा नाजायज कब्जा किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि किले को बचाने और कब्जा करने वालों पर मामला दर्ज करवाने की मांग को लेकर रोष धरना दिया गया। उन्होंने कहा कि किले को माफिया से आजाद करवाने के लिए पहले भी कई बार प्रशासन को मांग पत्र के अलावा समय-समय पर शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी को मांग-पत्र दिए गए परन्तु आज तक कोई भी कार्यवाही नहीं हुई। उन्होंने कहा कि सिख जत्थेबंदियों को साथ लेकर निहंग खां यादगारी ट्रस्ट बनाया जाएगा।

यह भी पढ़ेंः खरीद एजेंसियों का बड़ा ऐलान, गेहूं की स्टोरेज का करे इंतजाम नहीं तो 14 अप्रैल को...

धरने दौरान प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच बहसबाजी हुई। पुलिस आधिकारियों का कहना था कि इस मसले को 15 दिनों के अंदर-अंदर हल किया जाएगा। जत्थेबंदियों ने कहा कि यदि 5 दिन के बाद मसला हल न हुआ तो संघर्ष तेज किया जाएगा। इसके बाद प्रदर्शनकारी धरने वाली जगह से गुरुद्वारा श्री भट्ठा साहिब के आगे से होते हुए कोटला निहंग किले वाली जगह पर पहुंच गए जहां मुख्य गेट पर ताला लगा हुआ था, जत्थेबंदियों ने ताला तोड़ दिया और सतनाम वाहेगुरू का जाप करते हुए अंदर पहुंच गए और किले वाली जगह पर झंडा चढ़ाने उपरांत अरदास की गई जिसके बाद संगत वापिस लौटनीं शुरू हो गई। इस मामले को लेकर बड़ी संख्या में पुलिस तैनात थी चाहे एक बार स्थिति काफी गंभीर होती नजर आई परन्तु इस दरमियान किसी तरह की असुखद घटना से बचाव रहा।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!