नेपाल के राजा परिवार सहित श्री दरबार साहिब में हुए नतमस्तक

Edited By Vaneet,Updated: 20 Feb, 2020 05:03 PM

namastakas in sri darbar sahib including the king family of nepal

नेपाल के राजा ज्ञानेन्द्र बीर बिक्रम शाह ने गुरुवार को यहां कहा कि नेपाल का सिखों के साथ सदियों पुराना रिश्ता है।...

अमृतसर: नेपाल के राजा ज्ञानेन्द्र बीर बिक्रम शाह ने गुरुवार को यहां कहा कि नेपाल का सिखों के साथ सदियों पुराना रिश्ता है। राजा ज्ञानेन्द्र ने आज परिवार सहित श्री दरबार साहिब में माथा टेका। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि श्री हरिमन्दर साहिब में आकर उनको प्रसन्नता हुई है। यह गौरवशाली अनुभव है। उन्होंने कहा कि नेपाल में श्री गुरु नानक देव जी ने अपने पवित्र चरण रखे थे, इसलिए नेपाल का सिखों के साथ रिश्ता बहुत पुराना है। 

उन्होंने सिख कौम के सेवा के सिद्धांत की भी प्रशंसा की। राजा ज्ञानेन्द्र ने दरबार साहिब में कड़ाह प्रसाद की देग करवाई और रुमाला साहब भी भेंट किया। उन्होंने श्रद्धा के तौर पर श्री हरिमन्दर साहिब में एक लाख रुपए भेंट किए। उन्हें सिरोपा और पताशो का प्रसाद दिया गया। परिक्रमा करते हुए नेपाल के राजा ने श्री दरबार साहिब का इतिहास जानने में विशेष रुचि दिखाई। शिरोमणि समिति के मुख्य सचिव डा. रूप सिंह ने उनको श्री दरबार साहब के ऐतिहासिक महत्व के साथ-साथ लंगर प्रथा बारे भी जानकारी दी। 

शिरोमणि समिति ने श्री दरबार साहिब के सूचना केंद्र में राजा ज्ञानेन्द्र को श्री हरिमन्दर साहिब का सुनहरी मॉडल, सिरोपा और धार्मिक पुस्तकों के साथ सम्मानित किया। एसजीपीसी के मुख्य सचिव डॉ रूप सिंह ने राजा ज्ञानेन्द्र से अपील की कि वह श्री गुरु नानक देव जी से सम्बन्धित गुरुद्वारा नानक मठ काठमंडू की जमीन को कब्जा मुक्त करवाएं। राजा ने श्री सिंह को आश्वासन दिया कि वह इस मामले को खास अहमियत देंगे। डा. रूप सिंह ने बताया कि नेपाल में गुरु साहब के ऐतिहासिक स्थान की 500 एकड़ जमीन है। 
 

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!