मनप्रीत बादल ने की राजनाथ सिंह से मुलाकात, पंजाब के लिए की ये खास मांग

Edited By Vatika,Updated: 07 Jul, 2021 04:16 PM

manpreet badal meets rajnath singh

पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने आज केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के साथ मुलाकात करके उनको पंजाब में दो और सैनिक स्कूल

चंडीगढ़: पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने आज केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के साथ मुलाकात करके उनको पंजाब में दो और सैनिक स्कूल स्थापित करने के लिए मंजूरी देने की अपील की। मनप्रीत सिंह बादल ने कहा कि सैन्य सम्मान और बहादुरी पुरुस्कार के लिए पंजाब भारत का अगुआ राज्य रहा है। दूसरे राज्यों के मुकाबले पंजाब के सैनिकों के बलिदान और सम्मान ज़्यादा हैं। उन्होंने कहा कि पंजाब में एकमात्र सैनिक स्कूल कपूरथला में स्थित है और अब राज्य द्वारा गुरदासपुर और बठिंडा में दो और सैनिक स्कूल स्थापित करने की मांग की गई है।

वित्त मंत्री ने बताया कि दूसरे राज्यों जैसे कि हरियाणा, बिहार और महाराष्ट्र में दो-दो सैनिक स्कूल हैं जबकि उत्तर प्रदेश में 3 सैनिक स्कूल हैं। केंद्रीय रक्षा मंत्री ने इस संबंधी उचित कार्यवाही करने का भरोसा देते हुए कहा कि वह राष्ट्रीय सुरक्षा और भारत के सामाजिक और सांस्कृतिक नैतिक मूल्यों की रक्षा के लिए सिखों और पंजाबियों द्वारा निभाई गई भूमिका की निजी तौर पर सराहना करते हैं। रक्षा मंत्री का प्रशंसनीय शब्दों और समय देने के लिए धन्यवाद करते हुए वित्त मंत्री स. बादल ने उनको मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह की ओर से पत्र भी दिया और बताया कि राज्य सरकार द्वारा सैनिक स्कूल स्थापित करने के लिए गुरदासपुर के डल्ला गोरियाँ में 40 एकड़ ज़मीन अलॉट की गई है। पंजाब, बठिंडा में एक और सैनिक स्कूल स्थापित करने की इच्छा रखता है। इससे पंजाब के तीनों दोआबा, माझा और मालवा क्षेत्रों में 1-1 सैनिक स्कूल बन जायेगा।

बादल ने रक्षा मंत्रालय से बठिंडा में आधुनिक बस अड्डा और टर्मिनल स्थापित करने के लिए अधिकारिक मंजूरी जारी कराने के लिए श्री राजनाथ सिंह से अपील भी की क्योंकि प्रस्तावित जगह बठिंडा सैन्य छावनी के नज़दीक लगती है, इसलिए रक्षा मंत्रालय से औपचारिक अनापत्ति सर्टीफिकेट की ज़रूरत है। वित्त मंत्री ने कहा कि सभी ज़रुरी मिलिटरी नियमों का पालन किया गया है और सैन्य छावनी सीमा से 100 मीटर का रास्ता भी छोड़ दिया गया है। इसी तरह प्रस्तावित बस टर्मिनस, मिलिटरी क्षेत्र के साथ लगती इमारतों के लिए निर्धारित ऊँचाई की अपेक्षा नीचा रखा गया है। अनापत्ति सर्टीफिकेट के लिए ज़रुरी काग़ज़ात डिफेंस हैडक्वार्टर के पास जमा करवा दिए गए हैं और जल्द ही मंजूरी मिलने से प्रोजैक्ट को और तेज़ी के साथ मुकम्मल किया जा सकेगा। वित्त मंत्री ने रक्षा मंत्री को अमृतसर में पंजाब युद्ध नायक स्मारक और अजायबघर का दौरा करने का न्योता भी दिया, जिसको पंजाब सरकार द्वारा 144 करोड़ रुपए की लागत से स्थापित किया गया है।

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!