बस ड्राइवर का खौफनाक कारनामा, नजारा देख हक्का-बक्का रह गया हर कोई

Edited By Vatika,Updated: 09 Jun, 2022 03:03 PM

attack on batala

पंजाब रोडवेज डिपो बटाला में उस समय पर माहौल गर्मा गया, जब एक बस चालक अपने ऊपर चोरी के

बटाला (बेरी): पंजाब रोडवेज डिप्पो बटाला में आज उस समय अफरा-तफरी मच गई जब पनबस के एक चालक द्वारा रोडवेज डिप्पो में स्थित एक पानी वाली टैंकी पर चढ़कर आत्महत्या करने की धमकी दी गई। वर्णनीय है कि विभाग के अधिकारियों द्वारा उक्त चालक को तेल चोरी करने के मामले में निलम्बित किया गया था जिसके चलते चालक द्वारा आज टैंकी पर चढ़कर इंसाफ की मांग की गई। इस दौरान रोडवेज डिप्पो के जी.एम परमजीत सिंह द्वारा इस संबंधी तुरंत डी.एस.पी सिटी देव सिंह व फायर बिग्रेड को सूचित किया गया जिसके बाद पुलिस अधिकारी व फायर बिग्रेड के कर्मचारी मौके पर पहुंचे। दूसरी तरफ पंजाब रोडवेज पनबस कंन्ट्रक्ट वर्कज यूनियन के पदाधिकारियों द्वारा इक्ट्ठे होकर पंजाब सरकार व विभाग के विरुद्ध नारेबाजी की गई और चालक को इंसाफ दिलवाने की मांग की गई।

theft  charges  water tank  bus depot driver

इस संबंधी पत्रकारों को जानकारी देते हुए रोडवेज के जी.एम परमजीत सिंह ने बताया कि विगत दिनों विभाग द्वारा चालक दलजीत सिंह को तेल चोरी करने के मामले में निलम्बित किया गया था। उन्होंने कहा कि आज उक्त चालक द्वारा पानी वाली टैंकी पर चढ़कर आत्महत्या की धमकी दी गई जिसके बाद उन्होंने विभाग के उच्चाधिकारियों को इस संबंधी सूचित किया गया और विभाग के अधिकारियों द्वारा उक्त चालक को आश्वासन दिया गया है कि उसे डयूटी पर वापिस रख लिया जाएगा और डयूटी दौरान उक्त मामले की जांच भी जारी रहेगी। उन्होंने कहा कि जांच दारान जो भी निर्णय विभाग के उच्चाधिकारियों द्वारा किया जाएगा उस अनुसार कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि विभाग के अधिकारियों द्वारा दिए आश्वासन के बाद उक्त चालक टैंकी से नीचे उतर गया।इस संबंधी अन्य जानकारी देते हुए चालक दलजीत सिंह ने बताया कि वह पिछले 14 वर्षों से पंजाब रोडवेज में नौकरी कर रहा है और इस दौरान उसकी कभी भी कोई शिकायत नहीं हुई। उसने बताया कि विगत दिनों भी वह प्रतिदिन की तरह अपनी डयूटी पर था और वह मोगा से बस लेकर कलानौर आया था।

उसने बताया कि वह बस स्टैंड पर बस खड़ी करके होटल पर खाना खाने के लिए जाने लगा तो इस दौरान 4 इंस्पैक्टर आए जिन्होंने उसे कहा कि उन्होंने बस की तालाशी लेनी है जिस पर उसने बस की चाबी उक्त व्यक्तियों के सपुर्द कर दी। दलजीत सिंह ने बताया कि उक्त व्यक्तियों ने बस व उसकी किट की तालाशी ली लेकिन उन्हें उसमें कुछ भी नहीं मिला। उसने बताया कि इसके बाद जब वह खाना खाने के लिए होटल गया तो उक्त व्यक्तियों ने उसे दोबारा आवाज लगाई। दलजीत सिंह ने कहा कि उक्त व्यक्ति ने तेल की कैनियां लाकर इस संबंधी उससे पूछताछ की जिस पर उसने इस संबंधी कुछ भी पता न होने बारे संबंधित व्यक्तियों को कहा। उसने बताया कि इस दौरान जब वह दोबारा होटल गया तो उक्त व्यक्तियों ने वहां आकर उससे बस की चाबी मांगी और कहा कि उन्होंने यह बस लेकर जानी है जिस पर उसने उक्त व्यक्तियों को चाबी दे दी जिसके बाद वह बस लेकर चले गए। उसने बताया कि इसके बाद विभाग के अधिकारियों द्वारा उसे तेल चोरी के मामले में निलम्बित कर दिया गया जिसके चलते आज उसे इंसाफ लेने के लिए यह कदम उठाना पड़ा है। उसने बताया कि जिस बस से तेल चोरी करने का विभाग के अधिकारियों द्वारा उस पर आरोप लगाया गया है उसमें से तेल चोरी नहीं हो सकता क्योंकि उक्त बस नए माडल की है और उसमें से तेल निकालने का कोई भी सिस्टम नहीं है। उसने बताया कि विभाग के अधिकारियों द्वारा उसे जांच करने का आश्वासन दिया गया है और यदि उसे इंसाफ न मिला तो वह आत्महत्या करने को मजबूर होगा। इस अवसर पर उसके साथ बटाला डिप्पो के अध्यक्ष परमजीत सिंह कोहाड़ व अन्य कर्मचारी उपस्थित थे।

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!