Bold एक्ट्रेस Poonam Pandey के मौत की वजह बनी ये खतरनाक बीमारी, हर महिला हो जाएं सावधान

Edited By Vatika,Updated: 02 Feb, 2024 05:35 PM

poonam pandey death due to cervical cancer

बॉलीवुड की मशहूर Bold एक्ट्रेस Poonam Pandey की मौत की खबर ने हर किसी को चौंका दिया है।

पंजाब डेस्कः बॉलीवुड की मशहूर Bold एक्ट्रेस Poonam Pandey की मौत की खबर ने हर किसी को चौंका दिया है। इस खबर के बाद एक शब्द सर्वाइकल कैंसर चर्चा का विषय बन गया है। जी हां, पूरी दुनिया में महिलाओं को होने वाले इस कैंसर को सबसे कॉमन कैंसर माना जाता है।  ब्रेस्ट कैंसर के बाद महिलाएं सर्वाइकल कैंसर की चपेट में बहुत जल्दी आती हैं। 

PunjabKesari

WHO के मुताबिक 2020 में अनुमानित 6 लाख 4,000 नए मामलों और 3 लाख 42 हज़ार मौतों का आंकड़ा सामने आया था। आईसीएमआर के आंकड़ों के मुताबिक भारत में सर्वाइकल कैंसर के मामले बहुत तेजी से बढ़े हैं और यहां लगभग हर 8 मिनट में सर्वाइकल कैंसर से एक महिला की मौत हो जाती है। एक्सपर्ट्स की मानें तो कमजोर इम्यूनिटी, मल्टीपल पार्टनर के साथ शारीरिक संबंध, जेनिटल हाइजीन की कमी और कम उम्र में जिन महिलाओं के बच्चे  होते हैं उन्हें इस कैंसर का खतरा ज्यादा रहता है। बीते कल बजट में भी निर्मला सीतारमण ने भी सर्वाइकल कैंसर के खतरे पर जोर देते हुए कैंसर से बचाव के लिए वैक्सीनेशन को बढ़ावा दिया है। 

PunjabKesari

Body में कैसे फैलती है ये बीमारी
Cervical cancer  HPV वायरस यानी ह्यूमन पेपिलोमावायरस के कारण होता है। जब यह वायरस शरीर में ज्यादा समय तक रहता है और नष्ट नहीं हो पाता तो यह कैंसर का कारण बनता है। अधिकतर मामलों में शरीर खुद ही इस वायरस को खत्म करने में सक्षम होता है लेकिन कुछ मामलों में यह फैल भी जाता है। HPV वायरस के 12 अलग स्ट्रेन होते हैं जिनमें से कुछ ज्यादा जोखिम वाले स्ट्रेन विभिन्न कैंसर का कारण बनते हैं। 

PunjabKesari

9 से 45 साल की उम्र में लगवाएं Vaccine
इस कैंसर से बचने के लिए समय-समय पर टेस्ट करवाने जरुरी हैं। यदि 9 साल से कम उम्र की लड़की को ब्लड आना या बदबू आने जैसी समस्या हो रही हैं तो तुरंत गायनेकोलॉजिस्ट को दिखाना चाहिए। इसके अलावा यदि किसी महिला को पीरियड्स में किसी भी तरह की दिक्कत आ रही है तब भी उन्हें तुरंत टेस्ट करवाने चाहिए। लड़कियों या महिलाओं को 9 से 45 साल की उम्र में ही सर्वाइकल कैंसर की वैक्सीन एचपीवी लगवानी चाहिए। एक्सपर्ट्स की मानें तो कोई भी लड़की या महिला 9 से 45 साल की उम्र में वैक्सीन लगवा सकती हैं लेकिन इससे बचने के लिए 11-12 साल का समय ही वैक्सीन के लिए सही माना गया है।  


 

Related Story

Trending Topics

India

397/4

50.0

New Zealand

327/10

48.5

India win by 70 runs

RR 7.94
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!