मलेशिया के कैंपों में फंसे 350 पंजाबी युवकों को वापस लाए भारत सरकार

Edited By Tania pathak,Updated: 21 Jun, 2020 11:53 AM

government of india brought back youth trapped in malaysia camps

बादल ने मलेशिया में भारतीय उच्चायुक्त को फोन किया और उन्हें अपनी सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए इन युवाओं की हर संभव मदद करने को कहा...

बठिंडा (विजय) : केंद्रीय फूड प्रोसैसिंग उद्योग मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने विदेश मंत्री डा. एस. जयशंकर से अपील की कि वह मलेशिया सरकार से उन 350 युवकों को वापस लाने के लिए बातचीत करें जिन्हें अवैध रूप से जेल में रखा गया था और अब वे सजा काटने के बाद भी मलेशिया में फंसे हुए हैं। युवा अकाली दल के अध्यक्ष परबंस सिंह रोमाना और महासचिव सरबजोत सिंह साबी के साथ प्रभावित युवाओं के परिजनों ने शनिवार को हरसिमरत कौर बादल से उनके गांव बादल में मुलाकात की।
युवकों के परिवार के सदस्यों ने केन्द्रीय मंत्री को बताया कि उनके बेटे अब अवैध रूप से मलेशिया में रहने की सजा काट रहे थे। बीबी बादल ने कहा कि इन युवाओं को ट्रैवल एजैंटों ने धोखा दिया था जो उन्हें नौकरी देने की आड़ में मलेशिया ले गए थे।

उन्होंने कहा कि इन युवाओं को अपने स्वयं के खर्चे को वहन करना पड़ा और साथ ही वह अपने वीजा की अवधि समाप्त होने के बाद भी मलेशिया में अटके रहे। बादल ने मलेशिया में भारतीय उच्चायुक्त को फोन किया और उन्हें अपनी सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए इन युवाओं की हर संभव मदद करने को कहा। उन्होंने उच्चायुक्त से अनुरोध किया कि वे युवाओं से मिलने और पंजाब में उनके परिवारों के साथ बातचीत करने के लिए दूतावास से एक अधिकारी नियुक्त करें।  बादल ने परिवार के सदस्यों को आश्वासन दिया कि वह विदेश मंत्री से भी बात करेंगे और यह सुनिश्चित करेंगे कि इन युवाओं को जल्द से जल्द वापस लाया जाए। 

Related Story

Trending Topics

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!