सरकारी स्कूल में अध्यापकों व सहूलियतों की कमी का मामला : गांव वासियों ने स्कूल को जड़ा ताला

Edited By Kalash,Updated: 03 Aug, 2022 10:46 AM

lack of teachers and facilities in government school

लहरागागा के नजदीकी गांव लेहल खुरद के सरकारी स्कूल में अध्यापकों व सहूलियतों की कमी

लहरागागा (गर्ग/जिन्दल): लहरागागा के नजदीकी गांव लेहल खुरद के सरकारी स्कूल में अध्यापकों व सहूलियतों की कमी संबंधी मामला गांव वासियों द्वारा अधिकारियों के ध्यान में लाने के बावजूद मसले का कोई हल न होने के चलते गांव निवासियों द्वारा भारतीय किसान यूनियन एकता (उगराहां) के नेतृत्व में मांगों को लेकर स्कूल को ताला जड़ते स्कूल आगे दिया जा रहा धरना दूसरे दिन भी जारी रहा।

भारतीय किसान यूनियन एकता (उगराहां) के इकाई प्रधान जगदीप सिंह, ब्लॉक नेता सूबा सिंह संगतपुरा ने कहा कि हैरानी है कि देश की आजादी के 75 साल हो जाने के बावजूद देश के गांवों के लोग सेहत व शिक्षा जैसी बुनियादी सहूलियतों से वंचित हैं जिससे साबित होता है कि लीडरों को लोगों की समस्याओं से कोई सरोकार नहीं। एक तरफ राजनीतिक लीडरों द्वारा बच्चों को देश का भविष्य बताया जा रहा है व दूसरी तरफ बच्चों के भविष्य से खिलवाड़ हो रहा है जिसको किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

उन्होंने आम आदमी पारटी की सरकार को सख्त हाथों लेते कहा कि आम आदमी पार्टी के नेताओं की कथनी व करनी में बहुत फर्क है। जब तक स्कूल में अध्यापकों की कमी और सहूलियतों को पूरा नहीं किया जाता, स्कूल के लगे ताले को खोला नहीं जाएगा व संघर्ष को ओर तीखा किया जाएगा जिसकी जिम्मेवारी स्थानीय प्रशासन व विभाग की होगी। इस मौके धरने को अन्य के अलावा बलजीत सिंह गोबिन्दगड़ जेजियां, प्रीतम सिंह लहल खुरद, बिन्दर सिंह खोखर कलां, हरसेवक सिंह लहल खुरद, सोमी सिंह, पाली सिंह, तरसेम सिंह, हरमेश सिंह ने संबोधन किया।

सड़क पर पढ़ने के लिए मजबूर विद्यार्थी

स्कूल में अध्यापकों व सहूलियतों की कमी को लेकर चल रहे संघर्ष के दौरान अध्यापकों द्वारा सड़क पर ही विद्यार्थियों की क्लासें लगाकर पढ़ाया जा रहा है जो कि सरकार प्रशासन व विभाग के लिए शर्म की बात है, ऐसे में प्रशासन व विभाग को मामले को गंभीरता से लेकर तुरंत हल करना चाहिए नहीं तो आने वाले समय में इसके नतीजे कुछ और ही हो सकते हैं।

मसला हल न हुआ तो आज होगा चक्का जाम : एक्शन कमेटी

उक्त मामले पर बनाई गई एक्शन कमेटी ने ऐलान किया कि यदि सरकार, प्रशासन या संबंधित विभाग ने स्कूल में अध्यापकों की कमी व और सुविधाओं को पूरा न किया तो आज लहरागागा पातड़ां मुख्य मार्ग पर चक्का जाम करके रोष भरपूर प्रदर्शन किया जाएगा। इसकी जिम्मेदारी प्रशासन की होगी, क्योंकि प्रशासन व संबंधित विभाग द्वारा मामले को गंभीरता से नहीं लिया जा रहा व विद्यार्थियों के भविष्य से खिलवाड़ किया जा रहा है।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!