गुरदासपुर उपचुनावःसियासत ने डाली बाजवा ब्रदर्स में दरार

  • गुरदासपुर उपचुनावःसियासत ने डाली बाजवा ब्रदर्स में दरार
You Are HerePunjab
Saturday, September 23, 2017-12:50 PM

 गुरदासपुरःगुरदासपुर उपचुनाव में कांग्रेस द्वारा उम्मीदवार की घोषणा करने के साथ ही बाजवा ब्रदर्स में गुटबाजी खुले तौर पर सबके सामने आ गई है।

राज्यसभा सदस्य प्रताप सिंह बाजवा के भाई फतेहजंग सिंह बाजवा ने सुनील जाखड़ का साथ दिया है। प्रताप सिंह बाजवा  की अनुपस्थिति में फतेह सिंह बाजवा लोकसभा उपचुनाव में खड़े कांग्रेस उम्मीदवार जाखड़ के साथ चुनाव प्रचार में जुटे हुए है।आज जाखड़ बाजवा के घर भी जाएंगे। वहीं जब प्रताप सिंह बाजवा से फोन पर बातचीत की गई तो उन्होंने कहा कि वह 1-2 दिन में गुरदासपुर लौट रहे हैं।

गौरतलब है कि पंजाब में 2012 में हार का मुंह देखने वाली कांग्रेस में फिर गुटबाजी देखने को मिली। गुरदासपुर लोकसभा उप-चुनाव में कांग्रेस प्रधान सुनील जाखड़ को टिकट मिलने से नाराज राज्यसभा सांसद प्रताप सिंह बाजवा रैली में कहीं नजर नहीं अाए। वह अपनी पत्नी चरणजीत कौर के लिए टिकट की मांग कर रहे थे, लेकिन सी.एम. कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने जाखड़ को इस टिकट के लिए अागे कर दिया।
 
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी अमरीका से लौटने वाले हैं अौर बताया जा रहा है कि प्रताप सिंह बाजवा शनिवार को उनसे मुलाकात करेंगे। बाजवा गुरदासपुर से सांसद रह चुके हैं अौर उनकी पत्नी कादियां से विधायक रह चुकी हैं। बाजवा राहुल गांधी के नजदीकी है जबकि कैप्टन ने सोनिया गांधी से टिकट अोके करवा ली है। जब सुनील जाखड़ ने राज्यसभा सदस्यता लेने से इंकार कर दिया था तो बाजवा को राज्यसभा सांसद बनाया गया था। कांग्रेसी सूत्रों का कहना है कि पार्टी एक परिवार में एक से ज्यादा सीट नहीं दे सकती, जिस कारण बाजवा की पत्नी को टिकट नहीं दी गई। 

 जाखड़ के आने की बाजवा के घर चल रही हैं तैयारिया

जाखड़ आज फतेहजंग सिंह बाजवा के घर जा रहे हैं। इसी के चलते बाजवा के घर काफी तैयारियां चल रही हैं। जिक्रयोग्य है कि प्रताप बाजवा तथा फतेहजंग सिंह बाजवा एक ही घर में  रहते हैं। गत दिवस के समारोह के दौरान आज भी प्रताप सिंह बाजवा समारोह में शिरकत नहीं करेंगे। 
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!