पंजाब विधानसभा सत्र का आखरी दिन भी चढ़ा हंगामे की भेंट

  • पंजाब विधानसभा सत्र का आखरी दिन भी चढ़ा हंगामे की भेंट
You Are HerePunjab
Wednesday, November 29, 2017-1:22 PM

चंडीगढ(भुल्लर-फोटो कुर्ल) : पंजाब विधानसभा सत्र के आखरी दिन भी काफी हंगामा देखने को मिला। पंजाब विधानसभा में गैर कानूनी माइनिंग व राजू भईया के मुद्दे पर जोरदार नारेबाजी की गई । इतना ही नहीं अकाली-भाजपा मेंबर्स इसके बाद वाकआउट कर गए। इस दौरान आम आदमी पार्टी ने  सुखपाल खैहरा मामले पर सीबीआई जांच की मांग की। इसके बाद सुखपाल खैहरा की नवजोत सिद्धू तथा ब्रह्म मोहिंदरा के बीच तीखी तकरारबाजी देखने को मिली।  


खैहरा ने कहा कि जस्टिस नारंग की रिपोर्ट अगस्त महीने में आ गई थी। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने चिप्स फैक्टरी पर 15 दिन के अंदर एक्शन लेने की बात कही थी। सरकार यह बताए कि इस पर क्या एक्शन लिया गया। इसके बाद आप विधायक और कांग्रेस विधायक आमने सामने हो गए। दोनों पक्षों में नोक-झोंक होने लगी। खैहरा और कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के बीच  बहस हुई।

 
इसके बाद सदन में उत्‍तर प्रदेश के पूर्व मंत्री राघवेंद्र प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया का मामला उठा। शिरोमणि अकाली दल के एक विधायक ने कहा कि राजा भैया कांग्रेस विधायक के घर आया था। इस पर कांग्रेस विधायक कुशलदीप ढिल्लों ने कहा कि राजा भैया राजा भैया पहले सुखबीर बादल के एस्टड फार्म पर गए थे। इसके बाद वह रात को विक्रम सिंह मजीठिया के पास रुके।

इस पर शिअद विधायकों ने हंगामा शुरू कर दिया। शिअद के विधायक वेल में आ गए। इस दौरान पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल अपनी सीट पर बैठे रहे। इसके बाद अकाली दल के विधायकों ने सदन से वाकआऊट किया।

PunjabKesari

पूर्व मुख्य मंत्री विधानसभा सत्र मे भाग लेने जाते हुए।

PunjabKesari

विपक्ष के नेता सुखपाल खैहरा व लोक इंसाफ पार्टी के विधायक विधानसभा सत्र मे भाग लेने जाते हुए।

PunjabKesari

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह सत्र मे भाग लेने जाते हुए।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!