धुंध में हादसों से निपटने के लिए DTO और ट्रैफिक पुलिस मिलकर करेंगे काम

  • धुंध में हादसों से निपटने के लिए DTO और ट्रैफिक पुलिस मिलकर करेंगे काम
You Are HerePunjab
Thursday, December 15, 2016-12:36 PM

पटियाला (प्रतिभा) : फाजिल्का में धुंध की वजह से हुए हादसे में हुई अध्यापकों की मौत के बाद धुंध में होने वाले हादसों से निपटने के लिए अब डी.टी.ओ. और ट्रैफिक पुलिस विभाग ने मिलकर कार्रवाई करने की तैयारी कर ली है।पंजाब केसरी में खबर प्रकाशित होने के बाद डी.टी.ओ. विभाग ने ट्रैफिक पुलिस इंचार्ज से मीटिंग करके इस मामले पर गंभीरता से चर्चा की। अफसरों ने नियम तोडऩे वालों के खिलाफ कार्रवाई करने और वाहनों पर रिफ्लैक्टर लगाने का फैसला किया। डी.टी.ओ. दीपक भाटिया अब अगले सप्ताह खुद फील्ड में उतरकर चैकिंग करेंगे। जो भी स्कूली वाहन नियम तोड़ते हुए पाए गए, उनका लाइसैंस भी कैंसल किया जा सकता है। स्कूल बसों के अंदर सुरक्षा संबंधी जरूरी सभी बातें पूरी होनी चाहिएं। वहीं फॉग हैल्पलाइन नंबर शुरू करने की योजना भी बनाई जा सकती है ताकि इस नंबर पर नियम तोडऩे वालों की शिकायत हो सके।  हालांकि स्कूलों के  आसपास ट्रैफिक पुलिस वाले खड़े होते हैं पर एक-दो जगह पर जहां ट्रैफिक पुलिस नहीं है, वहां भी पुलिस की ड्यूटी लगाने के निर्देश जारी कर दिए हैं। गौरतलब है कि पिछले करीब एक हफ्ते से धुंध का कहर जारी है। जीरो विजिबिलिटी में हादसों का खतरा काफी बढ़ जाता है। पिछले दिनों ऐसे मामले हो भी चुके हैं।

 

सड़कों के किनारों, लावारिस जानवरों और डिवाइडरों पर लगेंगे रिफ्लैक्टर
सड़कों पर ट्रैक्टर, ट्रकों और आवारा पशुओं का खतरा सबसे ज्यादा होता है। आने वाले दिनों में धुंध और बढ़ेगी। ऐसे में डी.टी.ओ. दीपक भाटिया ने बुधवार को ट्रैफिक इंचार्ज से मिलकर कुछ योजनाओं पर काम करने के लिए चर्चा की। इसमें ट्रक यूनियन, टैक्सी यूनियन, स्कूली बस वालों से बात की गई और उन्हें अपने वाहनों पर रिफ्लैक्टर लगाने के लिए कहा गया है। सड़कों के किनारों, डिवाइडर्स व लावारिस जानवरों पर भी रिफ्लैक्टर लगेंगे। डी.टी.ओ. दीपक भाटिया ने बताया कि सेव वाहन पालिसी के तहत काम हो रहे हैं। स्कूलों के  आसपास सभी इलाकों में सभी को रिफ्लैक्टर लगाने के  लिए कहा गया है। उसके बाद ट्रैफिक पुलिस अपना काम करेगी, अगर कोई भी नियम तोड़ता हुआ पाया गया तो उसके खिलाफ कार्रवाई होगी। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!