निजी स्कूल की मनमानी: एनुअल फीस न भरने पर बच्चे को कक्षा से निकाला

  • निजी स्कूल की मनमानी: एनुअल फीस न भरने पर बच्चे को कक्षा से निकाला
You Are HerePunjab
Friday, April 21, 2017-1:18 PM

भटिंडा (पायल): जहां पहले ही निजी स्कूलों पर लूट के आरोप लगते आ रहे हैं वहीं अब एक निजी स्कूल की मनमानी को लेकर एक और चौंकाने वाला मामला प्रकाश में आया है, जिसमें एनुअल फीस न भरने पर प्रबंधकों द्वारा बच्चे को कक्षा से निकाल दिया गया। बच्चा काफी समय तक कक्षा के बाहर धूप में बैठा रहा। इस मामले में पीड़ित परिवार ने डिप्टी कमिश्नर दीप्रवा लाकरा व एस.डी.एम. साक्षी साहनी से गुहार लगाई है, जिस पर एस.डी.एम. ने जांच कमेटी बनाकर 25 अप्रैल तक उचित कार्रवाई का भरोसा दिया है।

स्कूल की मान्यता हो रद्द: गुरदेव सिंह
पीड़ित बच्चे अजीत सिंह के ऑटो चालक पिता गुरदेव सिंह निवासी गुरु नानक पुरा मोहल्ला ने बताया कि उसका बेटा निजी स्कूल में यू.के.जी. का छात्र है। एनुअल फीस न भरने पर स्कूल प्रबंधकों ने 2 दिन उसके बच्चे को कक्षा से निकालकर धूप में बैठने को मजबूर किया। वह नियमानुसार स्कूल की ट्यूशन फीस देने को तैयार है परन्तु वह एनुअल फीस व अन्य फंड नहीं दे सकता। उसने एस.डी.एम. से सरकारी निर्देशों का पालन न करने और अभिभावकों को परेशान करने वाले उक्त स्कूल की मान्यता रद्द करके उन्हें इंसाफ देने की मांग की है। 

 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!