सिद्धू के फंडों और घोटाले के बयान पर पूर्व वित्तीय मंत्री ने दी खुली बहस की चुनौती

  • सिद्धू के फंडों और घोटाले के बयान पर पूर्व वित्तीय मंत्री ने दी खुली बहस की चुनौती
You Are HerePunjab
Saturday, May 20, 2017-1:10 PM

पटियाला (बलजिन्द्र, स.ह.) : शिरोमणि अकाली दल द्वारा पुराना संगठनात्मक ढांचा भंग करके नया ढांचा बनाने के लिए समूचे विधानसभा हलकों में वर्करों और नेताओं के साथ मीटिंग का दौर शुरू किया गया है। इसके अंतर्गत पहली मीटिंग हलका सनौर के विधायक हरिंद्रपाल सिंह चंदूमाजरा के नेतृत्व में प्रेम बाग पैलेस में हुई।  जिले के आब्जर्वर व पूर्व वित्तीय मंत्री परमिंद्र ढींडसा ने कहा कि नवजोत सिद्धू की तरफ से फंडों के प्रयोग बारे जो आरोप लगाए जा रहे हैं, वे बेबुनियाद हैं। उन्होंने कैबिनेट मंत्री नवजोत सिद्धू को फंडों के प्रयोग बारे विधानसभा के अंदर और बाहर बहस की खुली चुनौती दी।

कांग्रेस ने नहीं दी नौजवानों को नौकरियां
उन्होंने कहा कि अकाली-भाजपा सरकार द्वारा समूचे काम पारदर्शी ढंग से किए गए हैं  हलका सनौर के विधायक हरिंद्रपाल सिंह चंदूमाजरा ने कहा कि 2 महीने सरकार बनने के बाद भी कांग्रेसी अभी भी अकाली दल की नुक्ताचीनी करने में लगे हुए हैं। जबकि उनको चाहिए कि अकाली दल की नुक्ताचीनी करने की बजाय अपना 2 महीने का रिपोर्ट कार्ड पेश करें। विधायक हरिंद्रपाल चंदूमाजरा ने कहा कि कांग्रेस ने 2 महीने बीत जाने के बाद अपना एक भी वायदा पूरा नहीं किया, न नौजवानों को नौकरियां दी गईं और न ही किसानों के कर्ज माफ किए गए। को-आब्जर्वर तथा पूर्व मंत्री गोबिंद सिंह लौंगोवाल ने कहा कि कांग्रेस को सबसे पहले यह समझना चाहिए कि वह सत्ता में है न कि विपक्ष में। इसलिए उनको चाहिए कि वह अपनी कारगुजारी बारे बताएं। 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You