गैर-कानूनी ढंग से चल रहे व्यापारिक वाहन लगा रहे सरकार को चूना

  • गैर-कानूनी ढंग से चल रहे व्यापारिक वाहन लगा रहे सरकार को चूना
You Are HerePunjab
Monday, September 11, 2017-11:17 AM

नवांशहर(त्रिपाठी): आर.टी.आई. एक्टीविस्ट परमिन्द्र कितना ने डी.जी.पी. पंजाब सहित जोनों के आई.जीस, पुलिस कमिश्नरों तथा सीनियर पुलिस कप्तानों को पत्र भेजकर धार्मिक स्थानों पर श्रद्धालुओं को ले जाने वाले व्यापारिक वाहनों के उपयोग पर पाबंदी लगाने की मांग की है। उन्होंने इस उद्देश्य से उपयोग लाए जाने वाले ट्रकों, फोर व थ्री-व्हीलरों, ट्रैक्टर-ट्रालियों तथा मोटरसाइकिलों व स्कूटरों आदि की बनावट बदलकर बनाई गई रेहडिय़ों को जब्त करने की भी मांग की है। 

उन्होंने कहा कि उक्त वाहन न केवल मोटर व्हीकल एक्ट की विभिन्न धाराओं का उल्लंघन कर रहे हैं बल्कि मानवीय जिंदगी के लिए भी बड़ा खतरा हैं। इसी तरह के वाहनों का उपयोग सब्जियां तथा अन्य सामान बेचने के लिए भी किया जा रहा है। किसी वाहन की बनावट बिना समर्थ अधिकारी की इजाजत के बदलना गैर-कानूनी है। दोपहिया वाहनों से निर्मित रेहड़ी 3 वाहनों का स्थान घेरती है जिससे न केवल सड़क हादसों के घटित होने की आशंका बनी रही है बल्कि गैर-कानूनी ढंग से हो रहे ऐसे वाहनों के उपयोग के सरकार के राजस्व को भी चूना लगता है। 

प्राय: इस तरह के वाहनों का उपयोग करने वालों प्रति गरीब लोग होने की दलील दी जाती है जबकि दूसरी ओर यह भूल जाते हैं कि जो लोग बैंक से ऋण अथवा अन्य किसी तरह से पैसों का जुगाड़ कर कानूनी तौर पर उपयोग में लाए जाने वाले वाहन चला रहे हैं, उनकी बैंक किस्त भी अदा हो पाना मुश्किल हो रहा है। उन्होंने कहा कि यदि जरूरत पड़ी तो इस संबंधी पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट में जनहित पटीशन भी दायर की जाएगी। 
 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !