मंदी की मार के बीच बिजली दरों में बढ़ौतरी ने दिया उपभोक्ताओं को झटका

  • मंदी की मार के बीच बिजली दरों में बढ़ौतरी ने दिया उपभोक्ताओं को झटका
You Are HerePunjab
Tuesday, October 24, 2017-9:28 AM

जालंधर(पुनीत): पंजाब में बिजली की दरों में बढ़ौतरी ने उपभोक्ताओं को बड़ा झटका दिया है, जिसे लेकर पब्लिक में खासा रोष देखने को मिल रहा है। नई दरों के मुताबिक घरेलू उपभोक्ता पर 7 से 12 प्रतिशत का बोझ डाला गया है, जबकि कमर्शियल उपभोक्ताओं से 8 से 10.5 प्रतिशत महंगी दरें वसूली जाएंगी। नई दरें 1 अप्रैल, 2017 से लागू होंगी। 

पूर्व में इस्तेमाल की गई बिजली के महंगे दाम देने होंगे
पंजाब स्टेट इलैक्ट्रीसिटी रैगुलेटरी अथारिटी द्वारा नई दरों की जो घोषणा की गई है वह बीते अप्रैल से लागू होने से उपभोक्ताओं को बिजली के महंगे दाम चुकाने पड़ेंगे। इसकी उपभोक्ता से प्रत्येक माह किस्तों में वसूली की जाएगी।   

इंडस्ट्री के टैरिफ में बढ़ौतरी गलत : गांधी
उद्योगपति आर.के. गांधी का कहना है कि इंडस्ट्री के टैरिफ में 8.50 से लेकर 11.88 प्रतिशत तक की जो बढ़ौतरी की गई है, वह गलत है। पहले से मंदी का संताप झेल चुकी इंडस्ट्री को कुछ दिन पहले राहत दी गई थी और अब उस पर नए रेट लगाने से इंडस्ट्री की कमर टूट जाएगी, क्योंकि बिजली की दरों को मद्देनजर रखते हुए ग्राहकों से कम दाम में आर्डर लिए गए हैं। 

कमर्शियल उपभोक्ता पहले से मंदी झेल रहे : साहनी
कमर्शियल  उपभोक्ता सन्नी साहनी का कहना है कि 10.5 प्रतिशत तक की बढ़ौतरी ङ्क्षचता का विषय है। कमर्शियल  उपभोक्ता पहले से मंदी की मार झेल रहे हैं, ऐसे में उन पर बोझ डालना गलत है। सन्नी ने कहा कि बड़े स्टोर आदि ने छोटा कारोबार करने वाले व्यापारियों को पहले ही दबा रखा है और अब महंगी बिजली की मार से उनके कारोबार और प्रभावित होंगे। 

रसोई का बजट बिगड़ेगा : हरदीप
गृहिणी हरदीप कौर का कहना है कि बिजली दरों में जो बढ़ौतरी हुई है उससे रसोई का बजट बिगड़ेगा। महंगाई ने पहले ही मध्यम वर्ग की कमर तोड़ रखी है। इसके मद्देनजर बिजली की दरों में की गई बढ़ौतरी को वापस लेना चाहिए, ताकि जनता को राहत मिल सके। हरदीप कौर ने कहा कि प्रदेश में बिजली सरप्लस है, जिसके चलते सरकार को बिजली की दरें कम करनी चाहिएं।  

सरकार के समक्ष मुद्दा उठाएंगे : मनीष 
उद्योगपति व कांग्रेस नेता मनीष क्वात्रा का कहना है कि दरों में बढ़ौतरी से पब्लिक में रोष देखने को मिल रहा है, जिसके चलते वे लोगों की समस्या को सरकार तक पहुंचाएंगे, ताकि उनका हल हो सके। मनीष का कहना है कि मुख्यमंत्री कै. अमरेन्द्र सिंह जनता को अधिक से अधिक सुविधा देने के लिए वचनबद्ध हैं व जल्द ही लोगों की समस्याएं हल हो जाएंगी। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!