पाकिस्तान की गोलाबारी से पंजाब के सरहदी गांवों में भी खौफ

  • पाकिस्तान की गोलाबारी से पंजाब के सरहदी गांवों में भी खौफ
You Are HerePunjab
Friday, September 22, 2017-12:59 PM

पठानकोट/बमियाल(शारदा, राकेश): पाकिस्तान की ओर से जम्मू-कश्मीर के सटे गांवों से गुजरने वाली सरहद पर आए दिन की जा रही गोलाबारी व फायरिंग का खौफ व सीधा असर पंजाब के सटे गांवों में भी देखने को मिल रहा है। सरहदी जनता को भय है कि जम्मू-कश्मीर के गांवों के बाद पाकिस्तान के निशाने पर पंजाब के  गांव भी हो सकते हैं, जहां से अंतर्राष्ट्रीय सरहद गुजरती है। 

सनद रहे, जब भी पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर के साम्बा व कठुआ क्षेत्रों के गांवों को निशाना बनाता है तो इसकी चपेट में पंजाब के कुछ गांव भी आ जाते हैं जो एक ओर अंतर्राष्ट्रीय सरहद के समीप हैं वहीं जम्मू संभाग से भी सटे हुए हैं। इन दिनों पाकिस्तान कठुआ के अरनिया सैक्टर में गोलाबारी कर रहा है, जहां निरंतर मोर्टार शैल दागे जा रहे हैं। पंजाब के गांव धलौतर भी में दागे जा रहे मोर्टार शैल की आवाजें सुनी जा सकती हैं।  


क्या कहती है सरहदी जनता : वहीं इस संबंध में महिन्द्र सिंह, जोगिन्द्र सिंह, राम लाल, स्वर्ण सिंह ने बताया कि पाकिस्तान की ओर से जब भी जम्मू-कश्मीर के गांवों में गोलाबारी की जाती है तो उनके गांवों में भी खौफ बढ़ जाता है। पिछले वर्ष भी इन दिनों सीमापार से हुई गोलाबारी के चलते उनके गांवों की जनता ने अंधेरे में रहकर दीवाली मनाई थी। इस बार भी उन्हें पिछले वर्ष की कटु स्मृतियां शाश्वत होने लगी हैं। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!