राष्ट्रीय अंडर-9 शतरंज चैम्पियनशिप-2017,जालंधर के विदित ने इलमपार्थी को हराकर किया उलटफेर

  • राष्ट्रीय अंडर-9 शतरंज चैम्पियनशिप-2017,जालंधर के विदित ने इलमपार्थी को  हराकर किया उलटफेर
You Are HerePunjab
Saturday, November 04, 2017-3:39 PM

गुरुग्राम (निकलेश जैन): अखिल भारतीय शतरंज संघ और हरियाणा शतरंज संघ के तत्वाधान में श्रीधाम ग्लोबल स्कूल में आरंभ हुई राष्ट्रीय अंडर-9 शतरंज चैम्पियनशिप -2017 के दूसरे ही दिन टॉप सीड और कई अंतर्राष्ट्रीय पदक विजेता तमिलनाडु के आर. इलमपार्थी उलटफेर का शिकार हो गए और उन्हें पराजित किया सभी को चौंकाते हुए जालंधर के नवोदित खिलाड़ी विदित जैन ने।


मैच में विदित सफेद मोहरों से खेल रहे थे। उन्होंने राजा के प्यादे को 2 घर आगे चलते हुए खेल की शुरूआत की। जबाब में अनुभवी इलमपार्थी ने सिसिलियन ओपङ्क्षनग में खेलते हुए मैच को आगे बढ़ाया। विदित ने बेहद ही आक्रामक अंदाज में खेल की 15वीं चाल में उनके राजा के ऊपर जोरदार हमला बोल दिया। एक और जहां विदित के वजीर और घोड़े ने अपनी शानदार उपस्थिति से खेल में इलमपार्थी के राजा को परेशानी में डाल दिया तो दूसरी ओर इलमपार्थी के मोहरे अभी तक खेल में उतना नियंत्रण नहीं दिखा पा रहे थे। उनके प्यादों की कमजोर स्थिति ने उन्हें और परेशान कर रखा था।


29 चालों तक दोनों खिलाड़ी आक्रमण और बचाव करते रहे। इस दौरान विदित ने अपने घोड़े की स्थिति में लगातार परिवर्तन बनाए रखा। खैर इसके बाद विदित ने 30वीं चाल में इलमपार्थी के वजीर को खेल से बाहर करने के प्रस्ताव को स्वीकार करते हुए उनके प्यादों को और खराब स्थिति में पहुंचा दिया। हालांकि इसके बाद खेल में कई ऐसे मौके आए जब दोनों खिलाड़ी बेहतर चाल चल सकते थे। अंत में विदित ने 2 हाथी और घोड़े के साथ इलमपार्थी के 2 हाथी और ऊंट के मुकाबले में अपनी श्रेष्ठता सिद्ध करते हुए 70 चालों में टॉप सीड तमिलनाडु के इलमपार्थी को मात देते हुए बड़ा उलटफेर किया। बालक वर्ग में जालंधर के ही अयान सभ्रवाल और बालिका वर्ग में अनहिता वर्मा अपने दोनों मैच में जीत दर्ज कर आगे बढ़े रहे हैं।

 

शीर्ष 3 खिलाड़ी विश्व चैम्पियनशिप में करेंगे भारत का प्रतिनिधित्व
इस प्रतियोगिता में भारत के सभी राज्यों से करीब 350 खिलाड़ी भाग ले रहे हैं। इसमें से चयनित शीर्ष 3 खिलाड़ी अगले वर्ष स्पेन के सेंतियागो में भारत का प्रतिनिधित्व विश्व चैम्पियनशिप में करेंगे। 11 राऊंड की प्रतियोगिता में अभी शुरूआती 2 राऊंड खेले गए हैं जबकि 9 मैच खेले जाने शेष हैं।

 

आक्रामक शतरंज खेलना पसंद करते हैं विदित : कोच दिनेश घेरा
पंजाब के जालंधर के रहने वाले विदित जैन पिछले 3 सालों से शतरंज सीख रहे हैं और वह आक्रामक शतरंज खेलना पसंद करते हैं। उनके कोच दिनेश घेरा ने बताया की पिछले कुछ समय से जब से जालंधर में ‘पंजाब केसरी’ ग्रुप द्वारा शतरंज को बढ़ावा देते हुए प्रतियोगिता करवाई जा रही है तब से बच्चों को अच्छी तैयारी करने का मौका मिला रहा है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!