सब्जियों का भाव आसमान पर, बिगड़ा रसोई का बजट

  • सब्जियों का भाव आसमान पर, बिगड़ा रसोई का बजट
You Are HerePunjab
Thursday, September 14, 2017-10:58 AM

बधनी कलां (बब्बी): सब्जियों के भाव बढऩे से आम लोगों का बजट पूरी तरह से लडख़ड़ा कर रह गया है। जानकारी के अनुसार गोभी 60 रुपए किलो, टमाटर 80 रुपए, भिंडी 60 रुपए, बैगन, कद्दू व पेठा 40 रुपए, मटर 100 रुपए, गवारा फली 80 रुपए किलो आदि के रेटों पर बिक रहे हैं। सरकार का सब्जियों व फलों पर कोई कंट्रोल न होने के कारण बड़े शहरों की सब्जी मंडियों में किसानों से व्यापारी चाहे बिल्कुल कम रेटों पर सब्जियां व फल खरीद लेते हैं, लेकिन आम लोगों को बेचने के समय सब्जियों व फलों के रेट चार गुना कर दिए जाते हैं।

सब्जियों के रेटों में आई तेजी ने गरीब लोगों को सब्जी से भी दूर करके रख दिया है। आज यहां सब्जी खरीदने आए लोगों का कहना है कि रोजाना रोटी तो हर इंसान ने खानी है तथा रोटी खाने के लिए घर में सब्जी लानी भी जरूरी है लेकिन सब्जियों की कीमतों में जो बढ़ौतरी हुई है, उसने लोगों का घरेलू बजट बिगाड़ कर रख दिया है। इस संबंधी जब मंडीकरण बोर्ड के मुलाजिमों से बात की तो उन्होंने कहा कि उनके पास सिर्फ सब्जी व फल बेचने वाले दुकानदारों द्वारा सामान की मार्कीट फीस वसूलने का ही अधिकार है। सब्जियां व फल बेचने के लिए रेट निर्धारित करने का हमारे पास कोई अधिकार नहीं है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !