कम वजन वाले बाटोंसे उपभोक्ताओं को लगाया जा रहा चूना

  • कम वजन वाले बाटोंसे उपभोक्ताओं को लगाया जा रहा चूना
You Are HerePunjab
Friday, September 22, 2017-4:13 PM

जलालाबाद (बंटी): शहर में दुकानदार व रेहड़ी वाले अपना सामान तोलकर बेचने के लिए कम वजन वाले बाटों का इस्तेमाल कर ग्राहकों को सरेआम चूना लगा रहे हैं जबकि संबंधित प्रशासन आंखें बंद कर तमाशा देख रहा है। 

शहर में ज्यादातर दुकानदारों व रेहड़ी वालों द्वारा बहुत ही पुराने बाटों का प्रयोग किया जा रहा है और 3 अलग-अलग स्थानों पर लिए गए सामान में से 100 ग्राम प्रति किलो के पीछे फर्क देखा गया। और तो और कुछ रेहड़ी वाले तोलते समय पत्थर के बाटों का इस्तेमाल करते देखे गए हैं। 

विभाग की अनदेखी जनता पर पड़ रही भारी : जानकारी के अनुसार पिछले लंबे समय से नापतोल विभाग ने चैकिंग नहीं की। नियमों अनुसार नापतोल विभाग द्वारा हर साल कांटों और बाटों की चैकिं ग कर उनके पिछे सीसा (लैड) भर कर मोहर लगानी जरूरी है। नापतोल विभाग की अनदेखी आम जनता पर भारी पड़ रही है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!