दुकान गया 7 वर्षीय बच्चा लापता,जांच में जुटी पुलिस

  • दुकान गया 7 वर्षीय बच्चा लापता,जांच में जुटी पुलिस
You Are HerePunjab
Wednesday, November 15, 2017-8:04 AM

श्री मुक्तसर साहिब (तनेजा): स्थानीय रेलवे लाइन के नजदीक स्थित खड्डियां वाली गली में देर शाम उस समय भगदड़ मच गई जब एक 7 वर्षीय बच्चा दुकान से खाने की चीज लेने गया पर वापस नहीं आया जिसके बाद परिवार वालों ने खुद तलाश करने के बाद पुलिस को सूचना दी।

पुलिस ने मौके पर पहुंच कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस के अनुसार इस बच्चे को घर के नौकर ने अगवा किया था। पुलिस की मुस्तैदी से कोटकपूरा से 3 घंटों के अंदर बच्चे को बरामद कर लिया गया। खड्डियांवाली गली निवासी सुनील कुमार तनेजा उर्फ  सोनू ने बताया कि उसका पुत्र अर्शदीप सिंह उर्फ  गोरू तनेजा जोकि एच.एस. हाई स्कूल में पहली कक्षा में पढ़ता है, सोमवार की शाम साढ़े 6 बजे गली के मोड़ पर स्थित दुकान से खाने की वस्तु लेने गया था परंतु वापस नहीं लौटा। करीब 20 मिनट तक वापस न आने पर उन्होंने उसकी तलाश शुरू कर दी। परंतु आस-पास की दुकानों से भी उसकी कोई जानकारी न मिलने पर उन्होंने थाना सिटी पुलिस को सूचना दी। सूचना मिलने पर थाना सिटी मुखी तेजिन्द्रपाल सिंह पुलिस पार्टी सहित मौके पर पहुंच गए।

उन्होंने आस-पास व परिवार वालों से पूछताछ करने के बाद जांच शुरू कर दी। पुलिस द्वारा विभिन्न ग्रुपों में फोटो वॉयरल करने के बाद आखिर देर रात्रि करीब 10 बजे बच्चा रेलवे स्टेशन कोटकपूरा में होने की सूचना जी.आर.पी. पुलिस ने थाना सिटी पुलिस कोटकपूरा को दी। सूचना मिलने उपरांत थाना सिटी के एस.एच.ओ. तेजिन्द्रपाल सिंह बच्चे के अभिभावकों को साथ लेकर कोटकपूरा थाना सिटी पहुंचे जहां एस.एच.ओ. खेम चंद पराशर ने बच्चा श्री मुक्तसर साहिब पुलिस के हवाले कर दिया। एस.एच.ओ. तेजिन्द्रपाल सिंह ने बच्चे को अभिभावकों के सुपुर्द कर दिया। इस मामले संबंधी स्थानीय कोटकपूरा रोड स्थित पुलिस उप कप्तान के कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत करते एस.पी.डी. बलजीत सिंह सिद्धू ने कहा कि पुलिस द्वारा मौके पर दिखाई मुस्तैदी के चलते यह बच्चा अर्शदीप सिंह अपने घर आ गया नहीं तो कोई भी बड़ी घटना हो सकती थी।

उन्होंने कहा कि आरोपी व्यक्ति जुनवैद भइया उर्फ निक्का वासी यू.पी. को भी जल्द काबू कर लिया जाएगा। इस संबंधी थाना सिटी पुलिस द्वारा धारा 363 के अधीन मामला दर्ज कर लिया गया है। चिंता जाहिर की जा रही है कि बच्चे को भीख मंगवाने या लेबर करवाने के इरादे से अगवा किया गया था। जुनवैद उसे पंजाब मेल टे्रन से यू.पी. ले जाने की ताक में था परंतु मौके पर पहुंची पुलिस द्वारा सोशल मीडिया पर वॉयरल की गई फोटो व दिखाई गई मुस्तैदी से बच्चा मिल गया, परंतु आरोपी पुलिस को देख फरार हो गया।


 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!