Subscribe Now!

2019 के चुनाव में उतरने से पहले भाजपा करेगी महायज्ञ

  • 2019 के चुनाव में उतरने से पहले भाजपा करेगी महायज्ञ
You Are HerePunjab
Saturday, January 13, 2018-10:27 AM

जालंधर(पाहवा): भारतीय जनता पार्टी वर्ष 2019 के लोकसभा चुनावों के लिए कोई कसर नहीं छोडऩा चाहती। पार्टी अब इन चुनावों के लिए केवल लोगों के बीच ही नहीं जाएगी, बल्कि दैवीय मदद के लिए गुहार लगाने जा रही है, जिसके लिए एक भव्य महायज्ञ करने की तैयारी इन दिनों भाजपा में चल रही है। अगर सभी कुछ सामान्य रहा तो इस महायज्ञ का आयोजन इसी साल 18 से 25 मार्च के बीच किया जाएगा, जिसका स्लोगन ‘आओ एक संकल्प लें, आओ एक आहुति दें’ है।


सांसद महेश गिरि के बंगले पर बन रहा है मास्टर प्लान
जानकारी के अनुसार राजधानी दिल्ली के संसद भवन से सटे 15 महादेव रोड बंगला जोकि भाजपा सांसद महेश गिरि का है, में 2019 के मास्टर प्लान की रूप-रेखा तैयार हो रही है। सूत्रों के अनुसार बंगले के अंदर एक पंडाल लगाया गया है जहां पर बड़े प्रोजैक्टर पर यज्ञ के मंडपों के वीडियो दिखाए जा रहे हैं। बड़े-बड़े कई मंडपों में साधु-महात्माओं को आहुति देते हुए दिखाया जा रहा है। पंडाल में लगभग 200 कुॢसयां और आने-जाने वालों के लिए नाश्ते और चाय-पानी का बंदोबस्त भी किया गया है। खास बात यह कि मीडिया की एंट्री यहां पूरी तरह से बैन है। 

 

लाल किले पर होगा महायज्ञ
इस महायज्ञ को लेकर राजनीतिक गलियारों में तरह-तरह की बातें सुनने को मिल रही हैं। महायज्ञ के आयोजन स्थल को लेकर जिस लाल किला परिसर की बात आ रही है, उससे आने वाले दिनों में विवाद भी गहरा सकते हैं। कहा जा रहा है कि भाजपा सांसद महेश गिरि ने इस यज्ञ को ‘राष्ट्र रक्षा महायज्ञ’ का नाम दिया है। इस महायज्ञ की खास बात यह है कि जिस जगह को यज्ञस्थल के रूप में चुना गया है, वह भारत की ऐतिहासिक इमारतों में से एक है।

 

22 को किया जाएगा खुलासा
हालांकि इस महायज्ञ के आयोजन को लेकर अभी तक किसी प्रकार की आधिकारिक घोषणा भाजपा सांसद  द्वारा नहीं की गई है वैसे कहा जा रहा है कि 22 जनवरी को इसका कर्टेन रेजर शो किया जाएगा, जिसमें पूरे कार्यक्रम की जानकारी दी जाएगी। 
सूत्रों के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसका उद्घाटन करेंगे। हालांकि अभी उनकी मंजूरी का इंतजार की बात भी कही जा रही है। महायज्ञ का समापन राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा करने की भी बात की जा रही है। ऐसा कहा जा रहा है कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह भी इस महायज्ञ में पूरे सात दिन मौजूद रह सकते हैं। इनके अलावा महायज्ञ में कई केंद्रीय मंत्री, भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्री, सांसद और कुछ धर्मगुरुओं को बुलाने की बात कही जा रही है।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन