कृषि से जुड़ी चीजों से GST हटाने पर होगा विचार, जेटली ने दिया किसान यूनियन को आश्वासन

  • कृषि से जुड़ी चीजों से GST हटाने पर होगा विचार, जेटली ने दिया किसान यूनियन को आश्वासन
You Are HereNational
Saturday, July 15, 2017-4:26 PM

लुधियानाः केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कहा कि कृषि से जुड़ी चीजों पर लगे गुड्स एवं सर्विस टैक्स (जीएसटी) को हटाने के लिए सरकार विचार करेगी। बता दें, भारतीय किसान यूनियन ने यहां जेटली के विरोध की घोषणा की थी। इस पर जेटली ने किसान यूनियन को यह आश्वासन दिया है। 

जेटली शनिवार को भारती ग्रुप के संगठन भारती फाऊंडेशन के सत्यभारती अभियान की सफलता को लेकर आयोजित समारोह में हिस्सा लेने आए थे। इस दौरान अपने संबोधन में जेटली ने कार्पोरेट सैक्टर को स्वच्छ भारत अभियान में मदद करने को कहा। कार्यक्रम के दौरान ही भारती फाऊंडेशन ने स्वच्छ भारत अभियान के तहत गुरुनगरी अमृतसर में 55 हजार शौचालय बनाने की घोषणा की।

इस मौके उन्होंने कहा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गांधी जी का हवाला देकर स्वच्छ भारत मुहिम की शुरुआत की थी जिसे पूरे देश को उनका सहयोग करना है। जेतली ने कहा हिंदुस्तान बाकी देशों की तुलना में ज़्यादा तरक्की कर रहा है। हर सुविधा यहां बढ़ रही है। दूसरी तरफ  उन्होंने कहा  हम पूरी कोशिश कर रहे हैं कि साल 2018 तक हिंदुस्तान के हर गांव में बिजली पहुंचे। 2019 तक हर गांव को पक्की सड़क के साथ जोड़ा जाए।

अगले दो -तीन सालों में पूरे राज्य को स्वच्छ रखना कोई मुश्किल काम नहीं है। उन्होंने बाकी लोगों को भी इस रास्ते पर चलने की अपील की। उन्होंने कहा कि मैं राकेश जी का धन्यवाद करता हूं जिन्होंने लुधियाना को स्वच्छ भारत मुहिम के साथ जोड़ा है। इसके बाद अमृतसर को, इस के बाद पूरे पंजाब को इस मुहिम का हिस्सा बनाया जाएगा। इस मिशन के साथ बाकी लोग भी जुड़ेंगे और पंजाब के हर एक गांव में हर सुविधा दी जाएगी। 

जेटली को काले झंडे दिखाएPunjabKesari

जनता नगर स्माल स्केल मैन्यूफेक्चरर एसोसिएशन ने जी.एस.टी. के विरोध में  जेटली को काले झंडे दिखाए और प्रदर्शन किया। विरोध प्रदर्शन में एमएसएमई यूनिट से जुड़़े उद्योगपति शामिल हुए और इसे छोटी इंडस्ट्री के लिए काला कानून बताया। एसोसिएशन के प्रधान जसविंदर ठुकराल की अगुवाई में जेटली को काले झंडे सत्तपाल मित्तल स्कूल से वापस जाते समय दुगरी पुल के पास दिखाए गए। वे अरुण जेटली गो बैक के नारे लगा रहे थे। वहीं, प्लाईवुड इंडस्ट्री से जुड़े उद्यमियों ने वित्त मंत्री से मुलाकात की और इंडस्ट्री पर लगे जी.एस.टी. को हटाने की मांग की।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !