कांग्रेस का शिअद पर पलटवार, कहा आतंकवाद व डर समस्या अकालियों की देन

  • कांग्रेस का शिअद पर पलटवार, कहा आतंकवाद व डर समस्या अकालियों की देन
You Are HereNational
Wednesday, September 13, 2017-5:02 PM

जालंधर  (धवन): पंजाब कांग्रेस ने शिरोमणि अकाली दल अध्यक्ष सुखबीर बादल तथा अन्य अकालियों नेताओं द्वारा ड्रग्स तथा 1984 के दंगों को लेकर कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर किए गए हमले पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि वास्तव में अकाली दल भाजपा को बचाने की कोशिशें कर रहे हैं क्योंकि राहुल गांधी ने अमरीका में यूनिवर्सिटी ऑफ बारकले में भाषण देते हुए केंद्र की भाजपा सरकार की पोल खोल कर रख दी।


पंजाब कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष सुनील जाखड़, कांग्रेसी विधायकों डा. राजकुमार वेरका, सुखसरकारिया, सुखविंद्र सिंह डैनी, सुखपाल सिंह भुल्लर, सुखविंद्र रंधावा, हरदयाल सिंह कम्बोज, कुलजीत नागरा तथा पार्टी उपाध्यक्षों केवल सिंह ढिल्लों तथा कई जिला प्रधानों ने संयुक्त वक्तव्य में कहा कि सुखबीर तथा हरसिमरन ने भाजपा को बचाने के लिए राहुल के खिलाफ बयान दिया है क्योंकि उन्होंने भाजपा के अंदर आलोकतांत्रिक कार्यप्रणाली तथा केंद्र की सरकार की हर फ्रंट पर विफलताओं को उजागर कर दिया है। उन्होंने कहा कि पंजाब विधानसभा चुनावों के समय भी अकाली दल ने 1984 के दंगों का मुद्दा उठाया था परंतु जनता ने अकाली दल को रिजैक्ट कर दिया। 


जाखड़ व अन्य कांग्रेसी नेताओं ने कहा कि पंजाब में ड्रग्स की समस्या अकालियों की देन थी। बादलों ने इस संवेदनशील सामाजिक समस्या की तरफ ध्यान नहीं दिया बल्कि इसे उत्साहित करते रहे जबकि कैप्टन सरकार ने सत्ता में आते ही ड्रग्स पर रोक लगाने में सफलता हासिल की। उन्होंने कहा कि राज्य में आतंकवाद अकालियों की देन था। बुरे समय के दौरान बादल आतंकियों को उत्साहित करते रहे। स्वयं बादल आप्रेशन ब्ल्यू स्टार के समय सेना की उपस्थिति को देखते हुए श्री दरबार साहिब से बाहर निकले थे। जब आतंकवाद चरमसीमा पर था तो बादल ने सुखबीर को अमरीका पढऩे के लिए भेज दिया था इसलिए पंजाब में आतंकी ङ्क्षहसा के मुद्दे पर सुखबीर को बोलने का कोई अधिकार नहीं है।


उन्होंने कहा कि पिछले 10 वर्षों में किस तरह से ड्रग माफिया अकालियों के संरक्षण में काम करता रहा। यह किसी से छिपा हुआ नहीं है। उन्होंने कहा कि पी.जी.आई. द्वारा ड्रग्स को लेकर जारी आंकड़ों का सहारा लेकर अकाली राहुल को बदनाम करना चाहते हैं जबकि कैप्टन अमरेंद्र सिंह सरकार ने ड्रग्स पर पूरी तरह से रोक लगा दी है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार की छवि की पोल राहुल ने विदेशों में खोल कर रख दी है जिस कारण अब भाजपा की पिछलग्गू बनने की कोशिशें अकाली लीडरशिप द्वारा की जा रही हैं। 
 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !