विदेशी गुरुद्वारों में भारतीय अधिकारियों के प्रवेश पर रोक लगाने का फैसला निंदनीय : गुरकीरत

  • विदेशी गुरुद्वारों में भारतीय अधिकारियों के प्रवेश पर रोक लगाने का फैसला निंदनीय : गुरकीरत
You Are HereLatest News
Wednesday, January 10, 2018-9:55 AM

खन्ना  (कमल): खन्ना हलका विधायक गुरकीरत सिंह ने प्रैस कॉन्फै्रंस को संबोधित करते हुए विदेशों में सिख संगठनों की तरफ से भारतीय अधिकारियों और राजसी नेताओं के गुरुद्वारा साहिबानों में दाखिले पर पाबंदी लगाए जाने के मामले को गंभीरता के साथ लेते हुए इसको दुर्भाग्यपूर्ण बताया।

 

विधायक गुरकीरत ने कहा कि इसके साथ विदेशों में खालिस्तानी समर्थकों को प्रोत्साहन मिलेगा, जोकि पंजाब की अमन शान्ति के लिए खतरे के संकेत हैं। उन्होंने कहा कि करीब 15 देशों में बैठे सिख कट्टरपंथियों द्वारा किए जा रहे इस तरह के प्रचार से पंजाबियों में दहशत का माहौल पैदा करने वाली बात है। विधायक ने कहा कि भारतीय अधिकारियों के विदेशों में गुरुद्वारा साहिबानों में प्रवेश की लगाई रोक के साथ विदेशों में भारत की शाख खराब होगी। भारत सरकार को इस मामले में दखल अंदाजी कर इन देशों की सरकारों के साथ बातचीत कर कट्टरपंथियों को ऐसा करने से रोकना चाहिए। 


उन्होंने भारत सरकार से यह भी मांग की कि विदेशों में बैठे खालिस्तान समर्थक लोगों पर भारत आने पर पाबंदी लगाने के लिए रणनीति तैयार करनी चाहिए, क्योंकि ऐसे लोग ही पंजाब में आतंकवाद को बढ़ावा दे रहे हैं। इस मौके उनके साथ नगर कौंसिल प्रधान विकास मेहता भी मौजूद थे। 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन