तख्ती लेकर DCP आफिस पहुंची मिंटी को मिला इंसाफ, 9 लोगों पर मामला दर्ज

  • तख्ती लेकर DCP आफिस पहुंची मिंटी को मिला इंसाफ, 9 लोगों पर मामला दर्ज
You Are HerePunjab
Friday, May 19, 2017-9:45 AM

जालंधर(महेश): आशु सांपला के खिलाफ इंसाफ की लड़ाई लड़ रही मिंटी कौर की शिकायत पर वीरवार को थाना डिवीजन नं. 6 (मॉडल टाऊन) में केन्द्रीय मंत्री विजय सांपला के खासम-खास भाजपा नेताओं प्रदीप खुल्लर, शीतल अंगुराल व दीपक लूथरा समेत 9 लोगों के खिलाफ मुकद्दमा नं. 63 आई.टी. एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया गया है। अन्य नामजद किए गए लोगों में अश्विनी बबूटा, अमृत धनोआ, सोनू दिनकर, दिनेश वर्मा, राजीव चोपड़ा, विकास कपिला आदि भी शामिल हैं। मिली जानकारी के मुताबिक सांपला परिवार के खिलाफ बड़े-बड़े खुलासे करने वाली मिंटी कौर ने करीब 10 दिन पहले पुलिस कमिश्नर के पास शिकायत दर्ज करवाई थी कि उक्त लोग सोशल मीडिया पर उसके खिलाफ गलत लिख रहे हैं लेकिन उसकी कोई सुनवाई न होने पर उसने सोमवार रात को पुलिस कमिश्नर की रिहायश के बाहर देर रात 1.30 बजे तक धरना देते हुए आरोपियों के खिलाफ आई.टी. एक्ट का केस दर्ज करने की मांग की थी।

मौके पर पहुंचे पुलिस अधिकारियों ने उसे यह आश्वासन देकर धरने से उठवाया था कि वे मंगलवार को सुबह 11 बजे उसे हर हाल में इन्साफ दिलाएंगे। मंगलवार सुबह मिंटी अपनी शिकायत लेकर डी.सी.पी. गुरमीत सिंह को मिली थी जिस पर उन्होंने एक दिन का समय मांगा था। बुधवार को मिंटी द्वारा शिकायत में शामिल किए गए लोगों को डी.सी.पी. ने पूछताछ के लिए बुलाया लेकिन कोई भी पेश नहीं हुआ। उसने सबूत के रूप में स्क्रीन शॉट भी डी.सी.पी. को सौैंपे थे। डी.सी.पी. ने मिंटी से बुधवार शाम को कहा था कि वीरवार दोपहर 1 बजे तक आरोपियों पर केस दर्ज कर लिया जाएगा। इसी दौरान उसने कहा था कि अगर 1 बजे तक केस दर्ज न हुआ तो वह पुलिस कमिश्नर कार्यालय में ही बैठकर धरना देगी। आज पुलिस ने अपने कहे अनुसार मिंटी की शिकायत में शामिल किए गए लोगों पर केस दर्ज कर लिया। इसके बाद मिंटी ने कहा है कि उसे भरोसा है कि आशु सांपला के मामले में भी उसे इन्साफ जरूर मिलेगा। उसके हुए शारीरिक शोषण, फाड़े गए कपड़ों, की गई मारपीट तथा छीने गए मोबाइलों को लेकर बनती धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया जाएगा। वर्णनीय है कि आई.टी. एक्ट में नामजद किए गए सभी आरोपी विजय सांपला के भतीजे आशु सांपला के हक में लड़ाई लड़ रहे हैं।

पहले भी दर्ज हो चुका है मामला
शीतल अंगुराल, प्रदीप खुल्लर, सोनू दिनकर तथा अन्य पर पहले भी थाना नई बारादरी में पुलिस कमिश्नर कार्यालय में धरना-प्रदर्शन करने को लेकर 341 व 149 आई.पी.सी. के तहत केस दर्ज किया गया था। यह केस पुलिस ने पुलिस कमिश्नर कार्यालय के सिक्योरिटी इंचार्ज जनक राज के बयानों पर दर्ज किया था। इस दौरान प्रदीप खुल्लर, शीतल अंगुराल व अन्य पर आरोप था कि उन्होंने धरना देकर आम जनता के कामों में रुकावट डाली है। 

एस.आई.टी. ने शेरू को जांच में किया तलब, 1 घंटा की पूछताछ
होशियारपुर के सांसद व पंजाब भाजपा के प्रधान विजय सांपला के भतीजे आशु सांपला पर लगे जबरन शारीरिक संबंध बनाने के गंभीर आरोपों को लेकर एस.आई.टी. की चल रही जांच में आज शेरू को तलब करते हुए उससे करीब एक घंटा पूछताछ की गई। यह पूछताछ एस.आई.टी. की प्रमुख  डी. सूडर विजी ए.डी.सी.पी. सिटी-2, दीपिका सिंह व सुरेन्द्र पाल धोगड़ी दोनों ए.सी.पी. की मौजूदगी में हुई। एस.आई.टी. के अधिकारियों के अनुसार शिकायतकत्र्ता युवती मिंटी ने पुलिस को दी शिकायत में आरोप लगाया था कि जब वह 26 अप्रैल को केन्द्रीय मंत्री विजय सांपला के गांव सोफी पिंड आशु सांपला के पारिवारिक सदस्यों के कहने पर गई थी तो वहां उसके साथ की गई मारपीट के दौरान गांव का ही शेरू नामक युवक भी अपने अन्य साथियों तथा महिलाओं को लेकर वहां पहुंचा था और उसने अपने साथ आई महिलाओं को उससे मारपीट करने व मोबाइल छीनने के लिए कहा था। मिंटी का आरोप था कि शेरू व साहिल सांपला ने ही उसके कपड़े फाड़े थे।

मिंटी ने शिकायत में यह भी कहा था कि अगर उसकी बात में सच्चाई नहीं है तो फिर विजय सांपला की कोठी तथा आस-पास अन्य स्थानों पर लगे सी.सी.टी.वी. कैमरों की फुटेज निकलवा ली जाए, पूरी सच्चाई सामने आ जाएगी। एस.आई.टी. प्रमुख सूडर विजी ने बताया कि इसी के  तहत ही शेरू को जांच में शामिल किया गया है। उन्होंने बताया कि 26 अप्रैल की घटना को लेकर आज एस.आई.टी. के अधिकारियों ने उसके बयान कलमबद्ध् किए हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि एस.आई.टी. की जांच लगभग पूरी हो चुकी है और बहुत जल्द ही इसका परिणाम दे दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि एस.आई.टी. अपनी रिपोर्ट इसी सप्ताह पुलिस कमिश्नर को सौैंपेगी।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !