जालंधर से पकड़ा आतंकी,IS की साजशि नाकाम

  • जालंधर से पकड़ा आतंकी,IS की साजशि नाकाम
You Are HerePunjab
Friday, April 21, 2017-9:10 AM

जालंधर/मुम्बइ (प्रीत/ भारद्वाज/जतिंद्र/एजैंसियां): दिल्ली और 5 अन्य राज्यों की पुलिस टीमों ने आज एक ज्वाइंट ऑप्रेशन में आई.एस. खुरासान मॉड्यूल के 4 संदिग्ध आतंकवादियों को गिरफ्तार कर कथित तौर पर भारत में आई.एस. के बड़े आतंकी हमले की साजिश को नाकाम कर दिया। इन लोगों की गिरफ्तारी के अलावा 6 अन्य लोगों को हिरासत में लिया गया है। एक अधिकारी ने बताया कि आज सुबह दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ, उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र के आतंकवाद रोधी दस्तों (ए.टी.एस.) तथा आंध्र प्रदेश, पंजाब और बिहार पुलिस की टीमों ने संयुक्त अभियान में मुम्ब्रा (मुम्बई), जालंधर (पंजाब), नरकटियागंज (बिहार), बिजनौर और मुजफ्फरनगर (दोनों उत्तर प्रदेश) में छापे मारे।


उत्तर प्रदेश ए.टी.एस. के महानिरीक्षक असीम अरण ने नोएडा में एक बयान में कहा कि 4 लोगों को आतंकी साजिश रचने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने कहा कि आई.एस.आई.एस. खुरासान मॉड्यूल से जुड़े आरोपी देश में कोई बड़ा हमला करने की साजिश रच रहे थे। 
अरण ने बताया कि उत्तर प्रदेश के जनपद बिजनौर से आई.एस. से जुड़े मुफ्ती फैजान और तनवीर को गिरफ्तार किया गया, जबकि मुम्बई के पास ठाणे जिले के मुम्ब्रा से नजीम शमशाद नामक संदिग्ध को गिरफ्तार किया गया। वह बिजनौर का रहने वाला है। पंजाब के जालंधर जनपद से गाजी बाबा उर्फ मुजम्मिल उर्फ जीशान (20) वासी उन्नाव नामक संदिग्ध को गिरफ्तार किया गया। वह अढ़ाई साल से काला संघिया रोड पर स्थित गुरु संत नगर इलाके में किराए के क्वार्टर में रह रहा था। गाजी बाबा को जालंधर की अदालत में पेश करके 4 दिन का ट्रांजिट रिमांड लिया गया है। अदालत से रिमांड लेते ही ए.टी.एस. की टीम आरोपी को लेकर लखनऊ रवाना हो गई।

गाजी बाबा की यू.पी. के मदरसे में ट्रेङ्क्षनग
बताया जा रहा है कि गाजी बाबा ने पढ़ाई और ट्रेङ्क्षनग यू.पी. में अवैध तौर पर चल रहे मदरसे से ली है। वहां से करीब 3 साल तक ट्रेङ्क्षनग के पश्चात उसे पंजाब एरिया में सक्रिय रहने के लिए भेजा गया था। सूत्रों ने बताया कि गाजी बाबा का आसपास के लोगों के साथ ज्यादा तालमेल नहीं था। 
वह कढ़ाई के काम में निपुण है। यहां आकर वह पहले हरदेव नगर इलाके में स्थित बुटीक पर काम करता था। गाजी बाबा व उसके साथियों के खिलाफ 12 अप्रैल को अन-लॉ फिल एक्टीविटी की धारा 121-ए, 122, 123, 153 ए तथा 120-बी आई.पी.सी. के अधीन केस दर्ज किया गया था। 

पंजाब पुलिस के सूचना तंत्र पर सवालिया निशान
जालंधर शहर में गुपचुप ढंग से खतरनाक संगठन से जुड़ा गाजी बाबा पिछले अढ़ाई साल से रह रहा था और पंजाब पुलिस या जालंधर पुलिस के खुफिया तंत्र को कानों-कान खबर नहीं हुई! यह पंजाब पुलिस के सूचना तंत्र पर सवालिया निशान लगाता है। स्पष्ट है कि पुलिस का खुफिया तंत्र बिल्कुल विफल है।  

निशाने पर बी.एस.एफ. और सेना मुख्यालय!
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आई.एस.आई.एस. का टार्गेट नई भर्ती को लेकर है जिनका निशाना बी.एस.एफ.,  सेना मुख्यालय और वी.वी.आई.पीज हो सकते हैं।   

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You