पंजाब पुलिस ने जग्गी को यातनाएं देने के सभी आरोपों को किया खारिज

  • पंजाब पुलिस ने जग्गी को यातनाएं देने के सभी आरोपों को किया खारिज
You Are HerePunjab
Monday, November 20, 2017-5:21 AM

चंडीगढ़(पराशर): पंजाब पुलिस ने कनाडा के एन.डी.पी. नेता जगमीत सिंह के उन आरोपों का जोरदार खंडन किया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि पुलिस द्वारा पंजाब में हिंदू नेताओं की टार्गेट किलिंग के संबंध में गिरफ्तार किए गए ब्रिटिश नागरिक जगतार सिंह जौहल उर्फ जग्गी को यातनाएं दी गई हैं। पुलिस ने कहा कि हर स्टेज पर कानून के मुताबिक ही कार्रवाई की गई और आरोपी को उसके काऊंसल, पारिवारिक सदस्यों तथा यू.के. हाई कमीशन की एक टीम से मिलने दिया गया।

पुलिस प्रवक्ता ने कहा कि टार्गेट किलिंग के केसों में जग्गी के खिलाफ पुलिस के पास न केवल पर्याप्त सबूत हैं बल्कि हमने इस बात को भी पूरी तरह सुनिश्चित किया कि मानव अधिकारों की किसी भी स्टेज पर कोई उल्लंघना न हो। प्रवक्ता ने कहा कि जग्गी को केस में फंसाने तथा उसे यातनाएं देने के सभी आरोप गलत और निराधार हैं। प्रवक्ता ने कहा कि चंडीगढ़ स्थित ब्रिटिश डिप्टी हाई कमिश्नर डी.जी.पी. पंजाब से संपर्क बनाए हुए हैं तथा उसने जग्गी की गिरफ्तारी पर कोई प्रश्न नहीं किया। 

पुलिस की तहकीकात के अनुसार जग्गी पंजाब में आतंकवादी गतिविधियों में संलिप्त पाया गया है। जालंधर के दकोहा फाटक से 4 नवम्बर को गिरफ्तारी के पश्चात जग्गी का लगातार मैडीकल भी किया जा रहा है। उसके पारिवारिक सदस्य उससे उसी दिन मिले। 15 नवम्बर को उसके वकील जगप्रीत सिंह चड्ढा ने सायं 8 और 9 बजे के बीच उससे मुलाकात की। इसके अलावा यू.के. हाई कमीशन न्यू दिल्ली की एक टीम जिसमें मारग्रेट पार्टरिज तथा अमित कुटेचा, काऊंसलर ऑफिसर्ज थे, भी जग्गी से मिली। 

टार्गेट किलिंग के संबंध में जग्गी की शमूलियत संबंधी जानकारी देते हुए पुलिस प्रवक्ता ने कहा कि वह के.एल.एफ. मॉड्यूल के सदस्यों के षड्यंत्र, उनमें तालमेल बैठाने, पैसा पहुंचाने तथा हथियार सप्लाई करने में शामिल था। जग्गी एक अन्य ब्रिटिश नागरिक गुरशरणबीर सिंह से भी संपर्क में था जो जुलाई, 2009 में राष्ट्रीय सिख संगत के अध्यक्ष रुलदा सिंह की हत्या में वांछित था। प्रवक्ता ने कहा कि पुलिस के पास यह साबित करने के लिए पर्याप्त सबूत हैं कि जग्गी ने ही गुरशरणबीर सिंह और हरमीत से साजिश रच कर हिंदू नेताओं की 2016-17 में टार्गेट किलिंग का प्लान बनाया। जग्गी टार्गेट्स की सलैक्शन, मॉड्यूल को बनाने तथा गैंगस्टर धर्मेंद्र सिंह गुगनी से मिलकर हथियार सप्लाई करने में संलिप्त था। इससे पहले गुगनी ने मॉड्यूल के सदस्यों को यू.पी. और बिहार से हथियार सप्लाई करवाए थे।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!