जगतार सिंह की रिहाई के लिए पंजाबी सांसद ब्रिटेन के गृह सचिव और भारतीय हाई कमिशन से मिले

  • जगतार सिंह की रिहाई के लिए पंजाबी सांसद ब्रिटेन के गृह सचिव और भारतीय हाई कमिशन से मिले
You Are HerePunjab
Wednesday, November 15, 2017-10:15 AM

जालंधर (प्रीत): इंगलैंड में आल पार्टी पार्लियामैंटरी ग्रुप (ए.पी.पी.जी.) फार सिख की अध्यक्षा सांसद प्रीत गिल सहित अन्य पंजाबी मूल के सांसदों ने इंगलैंड के गृह सचिव बोरिस जानसन एवं भारत में इंगलैंड के हाई कमिशन को जगतार सिंह जग्गी की पंजाब पुलिस की तरफ से की गई गिरफ्तार के मामले में हस्तक्षेप करने को कहा है क्योंकि जग्गी जौहल को बीते दिन अदालत में बिना किसी कानूनी सहायता के पेश किया गया। मांग की गई कि जग्गी के खिलाफ दोष रद्द कर उसे वापस भेजा जाए। अगर उसकी गतिविधियों पर संदेह है तो पहले सबूत समेत ब्रिटिश हाई कमिशन से बात की जाए। 

सिख कत्लेआम पर मैगजीन प्रकाशित करता है जग्गी 
पंजाब में हिन्दू नेताओं की हत्या की साजिश में गिरफ्तार जगतार सिंह उर्फ जग्गी जौहल यू.के. में 1984 के सिख कत्लेआम विषय पर पंजाबी मैगजीन प्रकाशित करता था और सोशल मीडिया के जरिए युवाओं को इस सच्चाई से अवगत करवा कर लहर से जोड़ रहा था। इस तथ्य का खुलासा यू.के. के सिख फैडरेशन ने एक वक्तव्य में किया। सिख फैडरेशन द्वारा जारी वक्तव्य में कहा गया है कि 30 वर्षीय जग्गी जौहल भारत में शादी करवाने के लिए आया था, लेकिन पुलिस ने उसे झूठे केस में फंसा दिया। जग्गी जौहल के समर्थन में यू.के. में लहर लगातार जोर पकड़ रही है। 

पंजाब जाने से पहले सौ बार सोचेंगे पंजाबी : ए.पी.पी.जी. 
ए.पी.पी.जी. का कहना है कि इंगलैंड में लाखों पंजाबी बसे हुए हैं, लेकिन जग्गी जौहल की गिरफ्तारी के पश्चात सभी ङ्क्षचतित हैं कि वे पंजाब जाएं या नहीं। इसी बीच ब्रिटिश सरकार के विदेशी एवं कॉमन वैल्थ दफ्तर के वक्ता ने कहा कि वह भारत मे पकड़े गए ब्रिटिश नागरिक के परिवार के सम्पर्क में हैं और इस संबंधी भारतीय अथारिटी के साथ भी सम्पर्क में हैं। 
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!