8 साल से मायके रह रही महिला ने लगाया फंदा

  • 8 साल से मायके रह रही महिला ने लगाया फंदा
You Are HerePunjab
Monday, January 08, 2018-9:33 AM

जालंधर (स.ह., सुधीर): घरेलू कलह के बाद 8 साल से मायके रह रही विवाहिता संदीप कौर उर्फ सुमन ने फंदा लगाकर जान दे दी। घटना के समय उसकी बच्ची साथ ही सो रही थी। फिलहाल पुलिस ने धारा-174 सी.आर.पी.सी. के अधीन कार्रवाई कर शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। थाना नम्बर-1 के अन्तर्गत आते गुरु रविदास नगर में किराए के मकान में रहते राजमिस्त्री बलजीत सिंह की बेटी संदीप कौर अपने दोनों बच्चों के साथ उन्हीं के पास रहती थी। बीती रात उसने परिजनों के साथ खाना खाया। इसके बाद वह अपनी बेटी के साथ कमरे में चली गई। रात को 2.30 बजे बलजीत सिंह शौच जाने के लिए उठे तो संदीप कौर का शव फंदे से लटक रहा था। इस पर उन्होंने सूचना तुरंत पुलिस को दी। सूचना मिलने पर थाना नम्बर 1 के इंस्पैक्टर रशमिन्द्र सिंह सिद्धू, ए.एस.आई. ब्रह्मलाल पुलिस फोर्स सहित मौके पर पहुंचे।

बाजू पर थे नुकीली वस्तु से गोदने के निशान!
मृतका सुमन का शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। पता चला है कि संदीप की बाजू पर नुकीली वस्तु से गोदने के निशान हैं। इस बारे में थाना नम्बर-1 के इंस्पैक्टर रशमिन्द्र सिंह सिद्धू ने बताया कि शव के पोस्टमार्टम के पश्चात ही मौत के कारणों का पता चलेगा। पुलिस जांच कर रही है। जांच में जो तथ्य सामने आएंगे, कार्रवाई की जाएगी।

12 साल पहले हुई थी दसूहा के अमरीक से शादी
बलजीत सिंह ने बताया कि संदीप कौर की शादी करीब 12 साल पहले अमरीक सिंह निवासी गल्लवाल, दसूहा के साथ हुई थी। दम्पति के एक बेटी मनप्रीत कौर और एक बेटा हरप्रीत सिंह है। करीब 8 साल पहले घरेलू कलह के कारण संदीप कौर बच्चों के साथ उनके पास आ गई। वह राजमिस्त्री है, वह कुछ समय से गुरु रविदास नगर में किराए के मकान में रह रहे थे। बलजीत के मुताबिक संदीप कौर घर पर ही रहती थी जिसका किसी के साथ कोई विवाद नहीं था। पति अमरीक से अलग होने के पश्चात दोनों परिवारों में बिल्कुल भी मेलमिलाप नहीं था लेकिन वह मानसिक परेशानी में रहती थी।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन