Subscribe Now!

1984 के कत्लेआम के लिए गांधी परिवार के खिलाफ दर्ज हो केस : सुखबीर बादल

  • 1984 के कत्लेआम के लिए गांधी परिवार के खिलाफ दर्ज हो केस : सुखबीर बादल
You Are HerePunjab
Tuesday, February 06, 2018-9:03 AM

चंडीगढ़  (पराशर) : 1984 के सिख कत्लेआम मामले में केसों का सामना कर रहे कांग्रेसी नेता जगदीश टाइटलर के विरुद्ध एक  स्टिंग  आप्रेशन का वीडियो सामने आने के बाद अकाली दल अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने मांग की कि दिल्ली और देश के अन्य हिस्सों में हजारों सिखों का कत्लेआम करवाने के लिए गांधी परिवार के खिलाफ केस दर्ज किया जाना चाहिए। 

 

वर्णनीय है कि इस वीडियो में जगदीश टाइटलर सरेआम कह रहे हैं कि 1984 में दिल्ली में हुए 100 सिखों के कत्लेआम के पीछे उनका हाथ था। उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस हाईकमान ने उन्हें दिल्ली का मुख्यमंत्री बनाने या फिर राज्यसभा सीट देने का वायदा किया था। सुखबीर ने इस पर कहा कि यह दोनों खुलासे 1984 के कत्लेआम में गांधी परिवार की सीधी शमूलियत को साबित करते हैं। 

 

उन्होंने कहा कि टाइटलर के खिलाफ आज सामने आया वीडियो दिसम्बर 2011 का रिकार्ड किया हुआ है। टाइटलर को केंद्रीय मंत्रालय से 2009 में निकाला गया था। उस समय यह शेखी मारना कि उसे राज्य सभा की सदस्ययता या दिल्ली का मुख्यमंत्री बनाने का दावा किया था,यह बात साबित करता है कि उसे गांधी परिवार द्वारा मुंह न खोलने के लिए ही यह पेशकशें दी जा रही थीं। अब यह लाजमी बनता है कि अदालत गांधी परिवार से पूछे कि जिस अपराधी के हाथों पर हजारों निर्दोष सिखों का खून लगा था, उसे ऐसे लालच क्यों दिए जा रहे थे। 

 

बादल ने कहा कि टाइटलर को यह दावे करते देखा गया है कि वह अपने खिलाफ जांचों को प्रभावित करता है और न्याय देने वालों से उसके नजदीकी संबंध हैं। उसने यह भी कबूल किया है कि उसके बेटे की एक कंपनी का स्विस बैंक में खाता है। वह यह कहकर अपनी अमीरी की धौंस जमा रहा है कि उसने अपने दोस्तों से जो 150 करोड़ रुपए लेने थे वह उसने छोड़ दिए हैं। यह सब कुछ तभी संभव था क्योंकि गांधी परिवार द्वारा उसकी पुश्तमनाही की जा रही थी। सुखबीर ने कहा कि अब अंतत: टाइटलर का समय खत्म हो चुका है और उसे तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए। अब वह अपने जुर्म का इकबाल कर चुका है। 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन