10 माह से प्रजातंत्र का गला घोंट रही है कैप्टन सरकार

  • 10 माह से प्रजातंत्र का गला घोंट रही है कैप्टन सरकार
You Are HereLatest News
Sunday, January 14, 2018-11:45 AM

होशियारपुर(जैन): भारतीय जनता पार्टी ने आरोप लगाया है कि पिछले 10 माह से कैप्टन अमरेन्द्र सिंह सरकार प्रजातंत्र का गला घोंट रही है। इस दौरान सरकार ने एक भी चुनावी वायदा पूरा नहीं किया जोकि राज्य की जनता के साथ सरेआम धोखा है। उक्त विचार प्रदेश भाजपा के उपाध्यक्ष अनिल सरीन ने पत्रकार सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किए। जिला भाजपा प्रधान डा. रमन घई भी उनके साथ मौजूद थे।
 

श्री सरीन ने कहा कि कांग्रेस की सरकार दौरान सर्वाधिक बुरा हाल किसान वर्ग का हो रहा है जिनकी आत्महत्या की दर दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। चुनाव से पूर्व कांग्रेस ने वायदा किया था कि किसानों का सारा ऋण माफ होगा और अब सरकार बनने पर 2 लाख रुपए तक के ऋण माफ किए जाने की बात कही जा रही है। हैरानी की बात है कि इसमें भी सरकारी, प्राइवेट व सहकारी बैंकों को बाहर निकालकर सिर्फ सहकारी संस्थाओं का ऋण माफ करने की बात की जा रही है।

 

अनिल सरीन ने आगे कहा कि दलितों के साथ किया गया कोई भी वायदा पूरा नहीं किया गया। दलित बच्चों को पोस्ट-मैट्रिक स्कॉलरशिप स्कीम के पैसे नहीं मिल रहे और न ही बेघर दलितों को घर दिए जा रहे हैं। युवाओं को नौकरी व स्मार्टफोन देने के प्रलोभन भी दिए गए थे, जो पूरे नहीं हुए। कांग्रेस सत्ता में आने पर एक माह के भीतर नशे खत्म करने का राग अलाप रही थी लेकिन बड़े खेद की बात है कि नशा तस्कर कांग्रेसी विधायकों की सहायता से नशों का कारोबार कर रहे हैं। तरनतारन के खेमकरण में कांग्रेसी नेता की जमीन पर अफीम की खेती जग-जाहिर हो चुकी है। व्यवसायी 5 रुपए प्रति यूनिट बिजली दर का इंतजार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि निगम चुनावों में सरकारी मशीनरी की जमकर दुरुपयोग हुआ। पटियाला में तो पुलिस को ही कांग्रेस वर्कर बनाकर प्रजातंत्र का गला घोंटा गया। 

 

अनिल सरीन ने बताया कि 16 जनवरी से राज्यभर में जिला मुख्यालयों पर कांग्रेस के खिलाफ धरने देकर रोष प्रदर्शन किए जाएंगे। जिला प्रधान डा. रमन घई ने इस मौके पर कहा कि कांग्रेस की जनविरोधी नीतियों को उजागर करने के लिए प्रदेश भाजपा द्वारा जो भी कार्यक्रम भेजा जाएगा, उसे लागू किया जाएगा। इस अवसर पर जिला योजना कमेटी के पूर्व चेयरमैन जवाहर खुराना, मंडल प्रधान अश्विनी ओहरी व एडवोकेट डी.एस. बागी भी मौजूद थे।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन