अमृतसर-दिल्ली के बीच चलेगी देश की दूसरी बुलेट ट्रेन

  • अमृतसर-दिल्ली के बीच चलेगी देश की दूसरी बुलेट ट्रेन
You Are HereNational
Friday, August 18, 2017-12:32 AM

अमृतसर(महेन्द्र): प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली केन्द्र सरकार से गुरु नगरी को बुलेट ट्रेन के तौर पर एक बहुत ही बड़ा तोहफा मिलने जा रहा है। इस संबंध में राज्यसभा सांसद श्वेत मलिक ने बताया कि केन्द्र सरकार तथा रेल मंत्रालय ने बुलेट ट्रेन शुरू करने के इस प्रोजैक्ट को मंजूरी भी दे दी है। इस प्रोजैक्ट पर करीब एक लाख करोड़ रुपए की लागत आने का अनुमान है। उन्होंने कहा कि यह प्रोजैक्ट 2024 तक पूरा हो जाएगा और यह बुलेट ट्रेन रेल-पटड़ी पर दौडऩी शुरू हो जाएगी।

मलिक ने कहा कि इस बुलेट ट्रेन की मांग वह समय-समय पर संसद में तथा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, केन्द्रीय वित्त मंत्री अरुण जेतली तथा केन्द्रीय मंत्री सुरेश प्रभु के समक्ष उठाते रहे हैं। मलिक ने बताया कि अमृतसर-नई दिल्ली बुलेट ट्रेन शुरू करने संबंधी फ्रैंच कंपनी सिस्ट्रा ने भारतीय रेलवे के साथ मिल कर सारी प्रोजैक्ट रिपोर्ट तैयार की थी। इससे पहले मुंबई से अहमदाबाद तक के लिए जो पहली बुलेट ट्रेन शुरू करने की घोषणा की गई है।

बुलेट ट्रेन के लिए केन्द्र सरकार खुद जुटाएगी फंड
मलिक ने बताया कि इस प्रोजैक्ट का आकलन करने के पश्चात यह फैसला किया गया है कि केन्द्र सरकार इस बुलेट ट्रेन के लिए पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप की बजाए खुद ही अपने स्तर पर सारे फंड जुटाएगी। इसके तहत केन्द्र सरकार वल्र्ड बैंक से तथा किसी भी अन्य देश के साथ एग्रीमैंट करके इस प्रोजैक्ट को पूरा करेगी। यह बुलेट ट्रेन स्टैंडर्ड ट्रैक पर ही चलेगी।

अंबाला, चंडीगढ़, लुधियाना तथा जालंधर में होंगे स्टॉपेज
सांसद ने कहा कि इस ट्रेन के शुरू होने से अमृतसर से दिल्ली तक कुल 458 कि.मी. तक का सफर यात्री मात्र अढ़ाई घंटे में तय करेंगे जबकि इस समय इतना सफर तय करने के लिए किसी एक्सप्रैस ट्रेन में करीब 6 घंटे लगते हैं। अमृतसर से दिल्ली तक शुरू होने वाली इस बुलेट ट्रेन के मार्ग में फिलहाल अंबाला, चंडीगढ़, लुधियाना तथा जालंधर स्टॉपेज सूचीबद्ध किए गए हैं। मलिक ने बताया कि इस बुलेट ट्रेन का किराया शताब्दी ए.सी. एग्जैक्टिव श्रेणी के किराए के बराबर ही होगा।  

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !