केजरीवाल ने एस.वाई.एल. पर यू-टर्न लिया, पंजाबियों के प्रति ईमानदारी की कमी : अमरेन्द्र

  • केजरीवाल ने एस.वाई.एल. पर यू-टर्न लिया, पंजाबियों के प्रति ईमानदारी की कमी : अमरेन्द्र
You Are HerePunjab
Thursday, December 15, 2016-5:10 PM

जालंधर  (धवन): पंजाब कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने एस.वाई.एल. मुद्दे पर ताजा यू टर्न लेने के बाद एक बार फिर से अपनी अस्थिर सोच व विश्वसनीयता की कमी को साबित कर दिया है, जिसे देखते हुए अब आम आदमी पार्टी को इस गंभीर मुद्दे पर अपना स्पष्टीकरण देना चाहिए। उन्होंने कहा कि ताजा प्रकरण में केजरीवाल ने पंजाब व पंजाबियों के हितों की रक्षा को लेकर अपनी वचनबद्धता में कमी दिखाई है क्योंकि उन्होंने कहा है कि पंजाब के दरियाओं का पानी दिल्ली को भी मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि केजरीवाल बड़े धोखेबाज व्यक्ति हैं तथा वह लोगों को खुलेआम गुमराह करने से नहीं कतराते हैं। 


कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने केजरीवाल से कहा कि समय आ गया है कि आप एस.वाई.एल. पर अपना पक्ष स्पष्ट करें। उन्होंने चेतावनी दी कि केजरीवाल की कभी हां तो कभी ना की नीति न सिर्फ पंजाब बल्कि हरियाणा व दिल्ली के लोगों की भावनाओं को भी गहरी ठेस पहुंचा रही है। उल्लेखनीय है कि कैप्टन ने बुधवार को आशंका जताई थी कि केजरीवाल एस.वाई.एल. पर पंजाब की बजाय दिल्ली का पक्ष लेंगे तथा वैसा ही केजरवाल ने किया। कैप्टन ने कहा कि केजरीवाल को पंजाबियों की भावनाओं के साथ खेलना बंद करना चाहिए, जिनके लिए एस.वाई.एल. जिन्दगी व मौत का मामला है। 


कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने कहा कि दो दिन पहले ही केजरीवाल ने माना था कि पंजाब के पास बांटने को पानी नहीं है, जो स्पष्ट तौर पर केजरीवाल द्वारा ‘आप’ में मौजूद अंदरूुनी संकट से लोगों का ध्यान भटकाने की निराशापूर्ण कोशिश थी। अब केजरीवाल ने यूटर्न लेते हुए कहा कि पंजाब के पानी पर दिल्ली का भी हक है। उन्होंने कहा कि केजरीवाल को उनके द्वारा लगातार पंजाब के लोगों को गुमराह करने की बात अब साफ हो गई है तथा कांग्रेस अब इस मामले में चुप नहीं बैठेगी। दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने तो पानी के मामले को मजाक बना दिया है। उन्होंने कहा कि पानी के मामले में केजरीवाल का दोहरा रूप सामने आने के बाद अब पंजाबी उन्हें माफ नहीं करेंगे। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि एस.वाई.एल. ही एकमात्र मुद्दा नहीं है, जिस पर केजरीवाल लगातार परस्पर विरोधी बयान दे रहे हैं, बल्कि केजरीवाल पंजाब के अंदर व बाहर सभी तरह के मुद्दों पर यू-टर्न लेने के कारण बदनाम हो चुके हैं, जिसके चलते ही उन्हें केजरीवाल की जगह पलटीवाल का नाम मिला हुआ है। 
 
बादल अपनी सम्पत्ति की मुझसे अदला-बदली कर लें 
कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने बादलों को कहा है कि वह अपनी सम्पत्ति की उनकी सम्पत्ति से अदला बदली कर लें। इससे पता चल जाएगा कि वास्तव में पंजाब का महाराजा कौन है। उन्होंने कहा कि उनकी पृष्ठभूमि राजघराने से जुड़ी हुई है परन्तु सम्पत्ति का मूल्य देखा जाए तो बादलों ने 10 वर्षों में इतना बड़ा एम्पायर खड़ा कर लिया है जिसकी तुलना उनके राजघराने की 350 वर्षों की सम्पत्ति से नहीं की जा सकती है। वास्तव में बादलो ंने पंजाब को जी भर कर लूटा है। इसलिए अगर बादल उन्हें महाराजा कहते हैं तो वह अपनी सम्पत्ति की बादलों की सम्पत्ति के साथ अदला बदली करने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि मैंने 2001 में भी यह आफर बादलों को दिया था। बादल द्वारा कैप्टन पर शाही जड़ें होने के लगाए आरोपों का जवाब देते हुए उन्होंन ेकहा कि बादल तो अब आवासीय सम्पत्ति से आगे बढ़ते हुए होटल, ट्रांसपोर्ट, मीडिया सैक्टरों में प्रवेश कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि बादलों की चल अचल सम्पत्ति में पिछले 10 वर्षों में भारी बढ़ौतरी हुई है। उन्होंने कहा कि एक तरफ राज्य विकास के लिए तरस रहा है तो दूसरी ओर माफिया राज ने पंजाब को जी भर कर लूटा। बादल द्वारा उन पर जनता से न जुड़े होने के लगाए आरोपों को खारिज करते हुए कैप्टन ने कहा कि अगर ऐसा होता तो वह बार बार संसद व विधानसभा के लिए जनता द्वारा निर्वाचित न होते। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!