अर्बन एस्टेट में अब लगेंगी सिर्फ मंजूरशुदा रेहडियां

  • अर्बन एस्टेट में अब लगेंगी सिर्फ मंजूरशुदा रेहडियां
You Are HerePunjab
Wednesday, September 13, 2017-9:50 AM

पटियाला (प्रतिभा): अर्बन एस्टेट फेज-2 में व्यवस्था और सुरक्षा दोनों के मद्देनजर अब पुडा वहां लगाई जा रही अवैध रेहडियों को हटाएगा। इसके लिए पुडा रेहड़ी एक्ट के तहत नगर निगम से उनके द्वारा लागू किए गए नियमों की डिटेल मंगवा रहा है। एक्ट में शामिल क्राइटेरिया के मुताबिक ही अब अर्बन एस्टेट में भी रेहड़ी खड़ी हो सकेगी। इसके लिए रेहड़ी वाले को फीस भी देनी होगी जोकि जल्द ही डिसाइड की जाएगी। 

हालांकि जानकारी के मुताबिक 10 से 12 रेहडियों को ही खड़े होने की मंजूरी मिल सकेगी। पर इसमें यह भी देखा जाएगा कि रेहड़ी वाले कितने सालों से खड़े हो रहे हैं। उसके मुताबिक ही पहल के आधार पर रेहड़ी खड़ी करने की इजाजत मिलेगी। फिलहाल पुडा के एस्टेट ऑफिसर जोकि नगर निगम के ज्वाइंट कमिश्रर भी हैं, वो इस एक्ट के मुताबिक नगर निगम द्वारा तय किए गए नियमों की डिटेल बना रहे हैं। 

अर्बन एस्टेट मार्कीट में खाने-पीने व अन्य सामान की दर्जनों रेहडिय़ां खड़ी हो रही हैं। इनके यहां खड़े होने को लेकर पहले भी एतराज जताया जा चुका है। हालांकि इन रेहडिय़ों को कुछ साल पहले हटाया भी गया था पर अब फिर से सड़क के किनारे, शोरूम या दुकानों के आगे ये रेहडियां खड़ी की जा रही हैं। इन्हें यहां से हटाने और एक पॉलिसी बनाकर सिर्फ कुछ रेहडिय़ां ही खड़ी करने को लेकर अथारिटी विचार कर रही थी पर रैगुलर ए.सी.ए. न होने की वजह से फाइनल फैसला नहीं हो पा रहा था।

रेहड़ी वाले के रोजगार का भी ध्यान रखना है : ए.सी.ए.
इसे लेकर ए.सी.ए. हरप्रीत सिंह सूदन ने कहा कि रेहडिय़ों को हटाने के लिए कोई पॉलिसी या प्रपोजल नहीं बनाया जा रहा है। बल्कि इसके लिए सरकार का एक्ट पहले से ही है। उसके आधार पर ही अब अर्बन एस्टेट में भी रेहडिय़ां खड़ी करने की इजाजत दी जाएगी। जो रेहड़ी वाले सालों से यहां रेहड़ी लगा रहे हैं, उन्हें मौका मिलेगा। एक फीस भी तय होगी ताकि दुकानों आदि के आगे उन्हें रेहड़ी खड़ी करके ज्यादा किराया न देना पड़े। इसके लिए पुडा के एस्टेट अफसर व नगर निगम के ज्वाइंट कमिश्नर पूरा ब्यौरा देख रहे हैं।

अर्बन एस्टेट पुलिस ने भी उठाया था ऑब्जैक्शन
नाजायज तौर पर खड़ी इन रेहडिय़ों पर अर्बन एस्टेट पुलिस ने भी ऑब्जैक्शन उठाया था। उनका कहना था कि इन रेहडिय़ों पर अलग-अलग तरह के लोग खड़े होते हैं। इनमें चोर और स्नैचर आदि भी शामिल हैं। जोकि रेहडिय़ों पर खड़े होकर रेकी करते हैं और बाद में घटना को अंजाम देते हैं। ऐसे में इन रेहडिय़ों को यहां से हटाया जाना चाहिए। क्योंकि रेहडिय़ों के पास खड़े होकर ऐसे लोग योजना बनाकर लोगों के साथ लूटपाट करते हैं।

शोरूम और दुकानों के आगे या साथ भी रेहडिय़ां लगाई जा रही हैं
रेहडिय़ां सिर्फ सड़कों के किनारे पर ही नहीं बल्कि मार्कीट में बनी दुकानों-शोरूम के आगे या साथ भी लगाई जा रही हैं। इसके लिए ये शोरूम मालिक और दुकान वाले रेहड़ी वालों से किराया भी लेते हैं। जबकि यूज पुडा लैंड का हो रहा है। ऐसे में इस तरह की अनियमितताओं को भी रोकने के लिए यह प्रपोजल बनाकर इसे लागू किया जा रहा है। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!