दिल्ली की तर्ज पर पंजाब में भी बनेंगे वेस्ट टू एनर्जी प्लांट

  • दिल्ली की तर्ज पर पंजाब में भी बनेंगे वेस्ट टू एनर्जी प्लांट
You Are HerePunjab
Sunday, November 19, 2017-12:58 AM

जालंधर(खुराना): पंजाब सरकार ने दिल्ली की तर्ज पर राज्य में भी वेस्ट टू एनर्जी प्लांट लगाने की योजना तैयार की है जिसके अंतर्गत लोकल बाडीज मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने पहले चरण में अमृतसर और जालंधर में ऐसे प्लांट स्थापित करने को हरी झंडी दी है। 
PunjabKesariइसी योजना के तहत गत दिनों पंजाब सरकार ने एक तीन सदस्यीय टीम दिल्ली भेजी जिसमें जालंधर नगर निगम के कमिश्रर डा. बसंत गर्ग और अमृतसर नगर निगम के कमिश्रर अमित कुमार शामिल थे। उनके साथ अमृतसर के सॉलिड वेस्ट प्रोजैक्ट मैनेजर भी थे। इस टीम ने अपने 2 दिवसीय दौरे दौरान दिल्ली के ओखला और नरेला क्षेत्रों में चल रहे ऐसे प्लांटों का दौरा किया और वहां कूड़े को ठिकाने लगाने की तकनीक तथा अन्य पक्षों का विस्तार से अध्ययन किया। यह टीम जल्द ही अपनी रिपोर्ट पंजाब सरकार को सौंपेगी जिसके आधार पर अगली कार्रवाई की जाएगी।

गौरतलब है कि साऊथ दिल्ली म्युनिसिपल कार्पोरेशन द्वारा अपना सारा कूड़ा ओखला में लगे प्लांट में ले जाया जाता है जो जिंदल कम्पनी द्वारा चलाया जा रहा है। इस प्लांट में जिंदल कम्पनी कूड़े से 22 मैगावाट बिजली का उत्पादन कर रही है। इसी तरह नार्थ दिल्ली म्युनिसिपल कार्पोरेशन द्वारा अपना सारा कूड़ा नरेला प्लांट में ले जाया जाता है जिसे रैम्की कम्पनी प्रोसैस करती है और 15 मैगावाट बिजली का उत्पादन करती है। नरेला प्लांट में प्रतिदिन 1200 टन के करीब कूड़ा प्रोसैस होता है। 

कूड़े से निपटने हेतु उपाय करने होंगे: डा. बसंत गर्ग
दिल्ली में चल रहे वेस्ट टू एनर्जी प्लांटों का दौरा करने के बाद वापस लौटे जालंधर नगर निगम के कमिश्रर डा. बसंत गर्ग ने बताया कि जिस प्रकार शहरी क्षेत्रों में जनसंख्या वृद्धि से कूड़े की संख्या बढ़ रही है उससे निपटने हेतु उपाय करने होंगे। उन्होंने बताया कि ओखला तथा नरेला में चल रहे प्लांटों बारे विस्तृत रिपोर्ट जल्द ही पंजाब सरकार को सौंप दी जाएगी।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!