इलाज में लापरवाही बरतने पर मरीज के परिजनों ने जमकर किया हंगामा

  • इलाज में लापरवाही बरतने पर मरीज के परिजनों ने जमकर किया हंगामा
You Are HerePunjab
Sunday, September 24, 2017-3:50 PM

तपा मंडी (मेशी): ढिल्लवां रोड पर स्थित सिद्धू मल्टी स्पैशलिटी निजी अस्पताल में मरीज के परिजनों ने डाक्टरी इलाज में लापरवाही बरतने का आरोप लगाते हुए हंगामा किया।

जानकारी अनुसार गत सप्ताह से गांव घुड़ैला से मरीज परमजीत कौर पत्नी रजिन्द्र सिंह जोकि पेट के दर्द कारण उक्त अस्पताल में उपचाराधीन थी, की इलाज दौरान हालत दिन-प्रतिदिन खराब होती देखकर मरीज के परिजन निराश होने लगे जिस कारण आज इस संबंधी जब डाक्टर से संपर्क किया गया तो उसने परिजनों को मरीज को किसी अन्य अस्पताल में लेकर जाने को कहा तो उक्त मरीज के पुत्र कुलदीप सिंह उर्फ बब्बू व पुत्री सुखदीप कौर ने अपनी माता की हालत अधिक गंभीर होने के कारण संबंधित डाक्टर पर इलाज में लापरवाही करने के कथित आरोप लगाए। उन्होंने बताया कि इस अस्पताल में इलाज के लिए नाबालिग बच्चों को बतौर हैल्पर रखा हुआ है।

उन्होंने आरोप लगाया कि डाक्टर जी.एस. सिद्धू जिसने हम से इलाज दौरान लगभग 45 हजार रुपए ले लिए परंतु हालत में कोई सुधार न होने से जवाब दे दिया जिस पर मरीज के परिजनों ने अस्पताल में हंगामा किया। हंगामे की सूचना मीडिया सहित पुलिस प्रशासन को लगी तो वहां तुरंत तपा पुलिस के ए.एस.आई. गुरसेवक सिंह व हवलदार दरसेम सिंह अस्पताल पहुंचे जिन्होंने इस मामले को शांत करवाकर मरीज को किसी अन्य अस्पताल में तुरंत भेजने का प्रबंध किया।

इस मौके पर अस्पताल में हाजिर 2 लड़कियां व 1लड़का जो करीब 15 वर्ष के थे,फरार होने में कामयाब हो गए। जब इस संबंधी अस्पताल के डाक्टर से बात की तो उन्होंने कहा कि इस मरीज के पेट में हॢनयां हैं जिसका आप्रेशन करने में कम से कम 10 दिन लगेंगे, मरीज के परिजनों द्वारा आज ही आप्रेशन करने की जिद की जा रही है लेकिन वह कोई खतरा नहीं लेना चाहते थे, इस कारण उसने परिवार को मरीज को लेकर जाने के लिए कह दिया। जब प्रैस द्वारा नाबालिग द्वारा इलाज करने की बात कही गई तो उन्होंने कहा कि ऐसा कुछ नहीं है, यह सब झूठे इल्जाम लगा रहे हैं। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!